ऋषि कपूर के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो सकी बेटी रिद्धिमा

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता ऋष‍ि कपूर ने गुरूवार सुबह अलिवदा कह दिया. शाम करीब सवा चार बजे मुंबई के मरीन लाइन्स स्थित चंदनवाड़ी श्मशान घाट में इलेक्ट्र‍िक प्रणाली से उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया जिसमें परिवार के 20 लोग मौजूद रहे. दुखद बात यह रही कि उनके अंतिम संस्कार में उनकी बेटी रिद्ध‍िमा कपूर चाहकर भी नहीं पहुंच पाईं. वे साउथ ईस्ट दिल्ली के फ्रेंड्स कॉलोनी ईस्ट में रहती हैं.

हालांकि उन्हें गुरुवार सुबह 10.30 बजे दिल्ली पुलिस ने मूवमेंट पास दे दिया था लेकिन मुंबई तक का सफर लंबा होन की वजह से वे पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाईं. गौरतलब हो कि देशव्यापी लॉकडाउन के बीच दिल्ली की सीमाएं फिलहाल सील हैं. इसके अलावा दिल्ली के सभी हवाई अड्डों से किसी भी तरह के विमान की भी आवाजाही पर रोक लगी हुई है. ये कयास लगाए जा रहे थे कि सरकार से अनुमति मिलने पर रिद्धिमा और उनका परिवार विशेष विमान के जरिए मुंबई तक पहुंचेगा.

इसके लिए जरूरी अनुमति के आवेदन दिल्ली और महाराष्ट्र के अधिकारियों तक भेजे गए थे. लेकिन जब चार्टर्ड विमान से जाने की अनुमति नहीं मिली तब रिद्ध‍िमा सड़क मार्ग से मुंबई के सफर पर निकलती मगर उन्हें सड़क मार्ग से मुंबई पहुंचने में १६ से १८ घंटे तक का वक्त लगता और मुंबई पुलिस ने साफ़ कह दिया था कि इतनी देर तक शव को रखने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

ऋष‍ि कपूर के अंतिम संस्कार के वक्त सैफ अली खान, करीना कपूर, आलिया भट्ट, अभ‍िषेक बच्चन, नीतू कपूर, आदर जैन, कुणाल कपूर समेत कपूर परिवार के अन्य पांच नजदीकी लोग ही शामिल हुए. बहरहाल ऋषि का निधन पूरे कपूर खानदान के लिए बड़ा झटका है. खासकर नीतू कपूर, रणबीर और रिद्धिमा के लिए इस दुखद घड़ी का सामना करना बेहद चुनौतीपूर्ण है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper