एंटी रोमियो स्क्वॉड को नवरात्रि से फिर सक्रिय करने के मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि नवरात्र के पहले दिन से ही पुलिस विभाग की तरफ से महिला सुरक्षा को लेकर विशेष अभियान चलाया जाए। बेटियों की सुरक्षा को लेकर सभी स्कूल, कॉलेजों पर एंटी रोमियो स्क्वॉड को सक्रिय किए जाने के निर्देश दिए है। मुख्यमंत्री योगी ने शुक्रवार को टीम नौ की बैठक में कहा कि नवरात्र के पहले दिन से ही पुलिस विभाग की तरफ से महिला सुरक्षा को लेकर विशेष अभियान चलाया जाए। बालिकाओं को लेकर सभी स्कूल, कॉलेजों पर एंटी रोमियो स्क्वॉड को सक्रिय किए जाने के निर्देश दिए है। इसके साथ ही शाम को पुलिस की एक टीम बाजारों और भीड़ वाले इलाकों में जाकर फुट पैट्रोलिंग भी करे। ये भी सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी आमजन को किसी प्रकार की कोई समस्या न हो।

उन्होंने कहा कि 10 अप्रैल से प्रदेश भर में मिशन शक्ति के कार्यक्रमों की शुरूआत होगी। इसको लेकर विभाग की तरफ से सभी को तैयारियों को पूरा कर लिया जाए। महिला कांस्टेबल को बीट स्तर पर तैनात किया जाय। सभी विभागों के कर्मचारी समन्वय स्थापित कर महिला बीट अधिकारी के साथ गांव की महिलाओं के साथ संवाद स्थापित कर उन्हें प्रदेश सरकार की तरफ से महिलाओं के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं से अवगत कराए। इसके साथ ही सप्ताह के एक दिन नगरीय वार्ड और गांवों में एक वृहद अभियान शुरू कर ग्राम सचिवालय में महिलाओं से जुड़ी समस्याओं का अधिकारी समयबद्ध ढंग से निस्तारण करें। इसे वार्ड स्तर पर लागू किया जाए। इसे भी सभी अधिकारी सुनिश्चित कर लें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी मेडिकल कॉलेज और अस्पतालों में इलेक्ट्रिक सेफ्टी, फायर सेफ्टी और स्वच्छता अभियान को प्रभावी ढंग से लागू करें। अस्पतालो में इमरजेंसी वार्ड में मरीजों को सभी सुविधा मुहैया हो इसे भी अधिकारी सुनिश्चित करें। जिन अस्पतालो और मेडिकल कॉलेज में मैनपावर की कमी है वहां जल्द से जल्द सभी रिक्त पदों को भरा जाए। इसके साथ ही जर्जर एम्बुलेंस की गाड़ियों को रिप्लेस कर नए वाहनों को खरीदा जाए।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में आकाशीय बिजली गिरने से होने वाले हादसों पर रोक लग सके, इसको लेकर विशेषज्ञों से बात की जाए। इसके साथ ही आकाशीय बिजली से प्रभावित क्षेत्रों में ऐसी मशीन को लगाने का कार्य करे जिससे बिजली गिरने का पूर्वानुमान लगाया जा सके, ताकि प्रदेश में आकाशीय बिजली गिरने से होने वाली मौतों पर रोक लग सके। योगी ने कहा कि गेहूं खरीद की प्रक्रिया आज से प्रारंभ हो रही है। यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी क्रय केंद्र पर किसानों को समस्या न हो, भंडारण गोदाम हो या क्रय केंद्र, हर जगह गेहूं की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं। प्रत्येक दशा में किसानों को एमएसपी का लाभ मिलना ही चाहिए। सभी क्रय केन्द्रों पर पूरी पारदर्शिता के साथ गेहूं खरीद कराई जाए। किसान को अपनी उपज बेचने में कोई असुविधा न हो। किसानों की उपज का समयबद्ध ढंग से भुगतान कर दिया जाए।

उन्होंने कि गर्मी का समय शुरू हो गया है। अत: सभी 75 जिलों में जलापूर्ति की सुविधा का परीक्षण कर लिया जाए। सभी हैंडपंप क्रियाशील रहें। इस हेतु संबंधित विभाग व संस्थाओं द्वारा तत्काल कार्य किया जाए। कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है। 30 करोड़ से अधिक कोविड टीके की डोज लगाने और 10 करोड़ 81 लाख से अधिक सैम्पल की जांच करने वाला एकमात्र राज्य उत्तर प्रदेश है। प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक उम्र के हर नागरिक को टीका लग चुका है। 15-17 आयु वर्ग के लगभग 93.20 प्रतिशत किशोरों ने टीका कवर प्राप्त कर लिया है और 24 लाख पात्र लोगों को प्री-कॉशन डोज भी मिल चुकी है। 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों में से 10 लाख से ज्यादा बच्चों को टीकाकवर मिल चुका है। इसे सतत जारी रखा जाए। 12-14 आयु वर्ग का टीकाकरण तेज किया जाए। विगत 24 घंटों में 01 लाख 20 हजार 835 कोरोना टेस्ट किए गए, जिसमें मात्र 50 नए कोरोना पॉजिविट पाए गए। इसी अवधि में 20 लोग उपचारित होकर कोरोना मुक्त भी हुए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper