एक रॉन्ग कॉल और हाथ से चलने वाले दिव्यांग को दे बैठी दिल, शादी करने के लिए खुद से पहुंची प्रेमी का घर

शादी एक पवित्र बंधन है पर इसके बाद भी कई लोग इस रिश्ते में खुश नहीं रहा पते है और तलाक लेकर अपना बंधन को तोड़ देते है, शादी-शुदा ज़िंदगी में ज़रा-सी गड़बड़ी होने पर इस बंधन को आसानी से तोड़ देते हैं पर कुछ ऐसे लोग भी होते है किसी भी हालातो में एक दूसरे कला साथ नहीं छोड़ते है और आज हम आपको एक ऐसे जोड़े के बारे में बताने वाले है जो लोगो के लिए मिसाल बन रही है।

ये मामला बिहार के सुपौल से है जहां एक रॉन्ग कॉल से एक दिलचस्प प्रेम कहानी की शुरुआत हुई,बता दें कि झारखंड के रांची की एक युवती को रॉन्ग कॉल पर सुपौल के एक दिव्यांग युवक से प्यार हो गया। जिसके बाद दोनों ने शादी कर ली,रांची की रहने वाली गौरी एक दिन गलती से एक नंबर पर मिस कॉल किया और वो नंबर सुपौल के बसबिट्टी गांव के रहने वाले मुकेश को लगा।

वही से इन दोनों की बातचीत होना शुरू हो गई थी और धीरे धीरे करते हुए इन दोनों को एक दूसरे से प्यार हो गया था एक साल तक बात करते रहे पर जब शादी की बात चली तब लडके ने शादी करने से साफ मना कर दिया और अपनी सारी सच्चाई उसे बता दी,सबूत के तौर पर दिव्यांग ने लड़की को अपनी एक फोटो भेजी पर इसके बाद भी लड़की ने इनकार नहीं किया और शादी करने के लिए सुपौल पहुंच गई।

वहीं लड़की का पीछा करते हुए उसके पिता और भाई भी वहां पहुंच गए, लड़का अपने पैरों पर खड़ा भी नहीं हो सकता,पर इसके बाद भी वह उससे शादी की और इन दोनों की शादी को हर कोई हैरान है, शादी ना करने के लिए खूब समझाया गया लेकिन दोनों नहीं माने जिसके बाद दोनों को सदर थाना लाया गया. लड़की ने अपने पिता और भाई से साफ कहा दिया कि वो बालिग है और अपने प्रेमी मुकेश से शादी करना चाहती है, वहीं सोमवार को मुकेश अपनी मौसी के साथ पहुंचा और दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली।

मुकेश बसबिट्टी गांव के रहने वाले है और दोनों पैरों से दिव्यांग है अरु उनकी माँ बचपन में ही चल बसी थी और पिता बाहर रहकर मजदूरी करते है,वहीं, अधिवक्ता ने कहा शपथ पत्र के द्वारा प्रेमिका ने शादी को कन्फर्म कराया और उस लड़की के जज्बे को सलाम करते हुए समाज के लिए प्रेरणा दायक बताया और कहा कि विकलांग प्रेमी स्वीकारना बड़ी हिम्मत की बात है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper