एग्जिट पोल: लहर बरकरार, बनेगी मोदी सरकार!

नई दिल्ली: लोकसभा की 543 में से 542 सीटों पर रविवार को मतदान संपन्न हो गया। चुनाव परिणाम 23 मई को आएंगे। चुनाव के बाद एग्जिट पोल के नतीजे सामने आए। 10 एग्जिट पोल्स में से 9 में एनडीए को स्पष्ट बहुमत मिलने का अनुमान है। वहीं, यूपीए को पिछली बार से दोगुनी सीटें हासिल कर सकती है। 5 एग्जिट पोल्स में एनडीए को 300 से ज्यादा सीटें मिलने का अनुमान है। पिछली बार एनडीए को 336, यूपीए को 60 और अन्य को 147 सीटें मिली थीं। वहीं, सभी एग्जिट पोल के औसत के अनुसार भाजपा नेतृत्व वाली एनडीए को 314, कांग्रेस नेतृत्व वाली यूपीए को 111 और अन्य दलों को 117 सीटेें मिलने का अनुमान जताया जा रहा है।

सबसे बड़ा उलटफेर पश्चिम बंगाल में देखने को मिल रहा है। 2014 में 42 सीटों वाली बंगाल में 2 सीटों पर काबिज भाजपा इस बार 25 सीटों तक पहुंच सकती है। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को झटका लग सकता है। हालांकि स्वतंत्र रूप से भाजपा की सीटें कम होने का अनुमान है। लेकिन एग्जिट पोल कह रहे हैं कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए दोबारा सरकार बनाएगी। अलग-अलग राज्यों की बात की जाए तो पिछले साल भाजपा से 3 हिन्दी भाषी राज्यों को छीनने वाली कांग्रेस का प्रदर्शन कमजोर दिख रहा है। मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भाजपा पिछले प्रदर्शन को दोहराती हुई दिख रही है। वहीं यूपी में महागठबंधन भी भाजपा को कड़ी चुनौती दे पाने में नाकाम साबित हो रहा है। बंगाल की बात करें तो इस राज्य में चुनाव के दौरान हिंसा भी खूब सुर्खियां बटोरीं।

भाजपा के दावे के अनुसार भी राज्य में उसके वोट से जबरदस्त इजाफा होता दिखा है। बंगाल में भाजपा 11 सीटों पर जीत हासिल कर सकती है। बिहार में एनडीए की सीटेें जरूर घट सकती हैं। यहां यूपीए को 5 सीटों का फायदा मिल सकता है। गुजरात और महाराष्ट्र से भाजपा के लिए अच्छी खबर नहीं है। दोनों ही राज्यों में भाजपा 4-4 सीटें गवां सकती है। दिल्ली में आप को बड़ा झटका लग सकता है। यहां की 7 सीटों में से 6 भाजपा और 1 कांग्रेस को मिल सकती है। एग्जिट पोल बाद सोशल मीडिया में प्त आएगा तो मोदी ही का दौर शुरू हो गया।
राज्यवार स्थिति
-जम्मू – कश्मीर में भाजपा को 1 सीट का नुकसान, पीडीपी का भी नहीं खुल पाएगा खाता, एनसी को 3 सीटें
-पूर्व उत्तर में भाजपा का शानदार प्रदर्शन, 13 सीटों का अनुमान
-तेलंगाना में टीआरएस बनेगी सबसे बड़ी पार्टी, भाजपा का नहीं खुलेगा खाता
-केरल में कांग्रेस को 3 सीटों का फायदा, भाजपा खाता खोलने में हो सकती है कामयाब
-आंध्रप्रदेश में वाईएसआर का रहेगा बेहतर प्रदर्शन, 18 सीटों पर मिल सकती है जीत, चंद्रबाबू नायडू को 7 सीटें
-तेलंगाना में केसीआर का कायम रहेगा जलवा, इस बार मिल सकती हैं 13 सीटें, जबकि भाजपा को 1 सीट
-तमिलनाडु में बज सकता है डीएमके का डंका, डीएमके की अगुवाई में यूपीए को मिल सकती हैं 29 सीटें, एनडीए को 29 सीटों का नुकसान
-दिल्ली में आप का नहीं खुल पाएगा खाता, भाजपा 6 तो कांग्रेस 1 सीट पर दर्ज कर सकती है जीत
-पूर्वी यूपी में नहीं चला प्रियंका गांधी का जादू, पार्टी का नहीं खुल पाएगा खाता
-उत्तराखंड में भाजपा को मिल सकती हैं 4 सीटें कांग्रेस के पास रह सकती है १ सीट। भाजपा को 1 सीट का नुकसान

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper