एनटीपीसी विंध्याचल ने 8वें भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव भोपाल में लगाई प्रदर्शनी

विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी एनटीपीसी विंध्याचल नें विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा आयोजित 8वें भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव में भाग लिया। यह महोत्सव दिनांक 21.01.2023 से 24.01.2023 तक मैनिट भोपाल में आयोजित किया जा रहा है। इस महोत्सव में एनटीपीसी विंध्याचल के साथ-साथ गाडरवारा और खरगोन परियोजना नें भी सयुंक्त रूप से भाग लिया।

यह महोत्सव भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव का आठवां संस्करण है, जिसका विषय “विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवाचार के साथ अमृत काल की ओर अग्रसर” है।

इस महोत्सव में एनटीपीसी पवेलियन का उद्घाटन दिनांक 21 जनवरी 2022 को महाप्रबंधक (एनटीपीसी) श्री संदेश जसवाल द्वारा किया गया। साथ ही विज्ञान और प्रौद्योगिकी के कैबिनेट मंत्री माननीय डॉ.जितेंद्र सिंह ने भी एनटीपीसी पवेलियन की शोभा बढ़ाई। पवेलियन ने एनटीपीसी के बारे में समग्र रूप से जानकारी प्रदर्शित की, साथ ही मध्यप्रदेश में स्थित तीनों प्लांट- गाडरवारा, विंध्याचल और खरगोन में स्थित बिजली संयंत्रों पर ध्यान केंद्रित किया। इसमें एनटीपीसी द्वारा सीएसआर से संबन्धित कार्यों, पर्यावरण संरक्षण, कॉर्पोरेट फिल्मों, वर्किंग मॉडल, ब्रोशर और पावर क्विज के माध्यम से की गई विभिन्न अभिनव पहलों के बारे में भी बात की गई।

भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव में एनटीपीसी विंध्याचल द्वारा लगाए गये स्टाल में डिस्प्ले पैनल व डाइरमा एवं मॉडेल के माध्यम से एनटीपीसी एवं विद्युत उत्पादन से संबन्धित अनेक जानकारियों के साथ-साथ विंध्याचल परियोजना द्वारा संचालित विभिन्न गतिविधियां जैसे- सीएसआर गतिविधियां, फ्लू गैस एयर कंडीशनिंग, राख का उपयोग, जेडएलडी, नवीकरणीय स्रोतों का उपयोग करके बिजली का उत्पादन, हरित ऊर्जा एवं पर्यावरण संरक्षण व स्स्टेनेबल डेव्लपमेंट आदि से संबन्धित जानकारियों को स्टाल में आये हुये सभी गणमान्य अतिथियों एवं स्कूली बच्चों इत्यादि को साझा किया गया । इसके साथ ही तीनों बिजली संयंत्रों ने एनटीपीसी के विभिन्न पुरस्कारों और उपलब्धियों को भी प्रदर्शित किया और यह भी बताया गया कि विभिन्न तरीकों से प्रौद्योगिकी का उपयोग समाज को लाभ पहुंचाने और समुदायों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए किया जा रहा है।

इस अवसर पर भारी मात्रा में स्कूल एवं इंजिनियरिंग कालेज के विद्यार्थियों तथा आस-पास के लोग आये और इसका भरपूर आनंद उठाया। इस महोत्सव में विभिन्न क्षेत्रों से आये हुये राजकीय संस्थान, पीएसयू, इंजिनियरिंग कालेज के विद्यार्थियों एवं आस-पास के स्कूली बच्चों द्वारा विभिन्न स्टाल भी लगाए गये है।

सोनभद्र से रवीन्द्र केसरी

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper