एमएलसी की दबंगई! कालोनी के रास्ते पर गेट लगवाने पहुंचे

वाराणसी: उत्तर प्रदेश के वाराणसी के गिलट बाजार स्थित पत्रकारपुरम कालोनी के रास्ते पर ही बुधवार को भाजपा एमएलसी अपने प्लाट का गेट लगवाने लगे। कालोनी के लोगों ने विरोध किया तो एमएलसी और उनके समर्थकों ने दबंगई की। हालांकि पुलिस के संज्ञान में मामला आने के बाद कैंट पुलिस ने मौके पर पहुंचकर काम रुकवा दिया। उधर, स्थानीय लोगों ने देर शाम प्रमुख सचिव लोक निर्माण नितिन रमेश गोकर्ण से मुलाकात कर पूरे मामले की शिकायत की। प्रमुख सचिव ने वीडीए अधिकारियों से पूरे मामले में कार्रवाई का निर्देश दिया है।

कैंट थाना अंतर्गत पत्रकारपुरम कॉलोनी (गिलट बाजार) के गेट नंबर ए-1 पर बुधवार को गाजीपुर के चर्चित भाजपा एमएलसी के द्वारा जबरदस्ती गेट लगाए जाने को लेकर कालोनी में रहने वालों ने विरोध किया तो एमएलसी के असलहाधारी गुर्गों ने लोगों को डरा धमकाकर शांत कराने की कोशिश की। मामले की सूचना पाकर कैंट पुलिस मौके पर पहुंची और निर्माण कार्य को रोकवा दिया। वहीं कालोनी में रहने वालों का आरोप है कि एमएलसी और उसके गुर्गों ने गुरुवार को फिर से निर्माण कार्य कराने की धमकी दी है।

पत्रकारपुरम कालोनी में रहने वाले लोगों ने बताया कि सुबह के वक्त आधा दर्जन स्कार्पियो से गाजीपुर के एमएलसी अपने असलहाधारी गुर्गों के साथ कालोनी में पहुंचे और कालोनी के गेट नंबर ए-1 के पास अवैध रूप से अपने प्लाट के रास्ते के लिए गेट लगाने लगे। जब लोगों ने विरोध किया तो एमएलसी के गुर्गों असलहे के बल पर कालोनी में रहने वाले लोगों को धमकाने लगे। कुछ दिन पहले एमएलसी के गुर्गों ने पत्रकारपुरम कालोनी की बाउंड्रीवाल तोड़ दी थी।

जिसपर लोगों ने इसकी शिकायत वीडीए से की थी, लेकिन वीडीए की ओर से कोई कार्यवाही नहीं की गई। इंस्पेक्टर कैंट अश्वनी चतुर्वेदी ने बताया कि सड़क पर गेट लगाने की शिकायत पर पुलिस पहुंची थी और काम रुकवा दिया है। एक एमएलसी भी मौके पर थे। शिकायत मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

अमर उजाला से साभार

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper