एलपीजी सब्सिडी में पिछले दो माह में आया 60 प्रतिशत उछाल

मुंबई: विदेशी बाजारों में दाम बढ़ने के बावजूद सरकार ने घरेलू बाजार में सब्सिडाइज्ड एलपीजी सिलेंडर के दाम पुराने ही रखे हैं, ‎जिसके कारण एलपीजी सब्सिडी में पिछले दो माह के दौरान 60 प्रतिशत उछाल दर्ज किया गया। इंडियन आयल कॉरपोरेशन के चेयरमैंन संजीव सिंह ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कीमतों में वृद्धि के बाद भी सरकार ने ग्राहकों को राहत देते हुए घरेलू बाजार में सब्सिडाइज्ड सिलेंडर के दाम नहीं बढ़ाए।

बैंक खातों में ट्रांसफर की जाने वाली सब्सिडी राशि मई में जहां 159.29 रुपये प्रति सिलेंडर थी, जून में यह बढ़कर 204.95 रुपये और जुलाई में 257.74 रुपये पर पहुंच गई। जून से ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एलपीजी के दाम बढ़ रहे हैं। बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर का दाम मई में 653.50 रुपए प्रति सिलेंडर था जून में यह बढ़कर 698.50 रुपए प्रति सिलेंडर हो गया है। इसमें 48 रुपए की बढ़ोतरी हुई। इस महीने बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 55.50 रुपए और बढ़कर 754 रुपए हो गई।

नीति आयोग ने पेट्रोलियम और नेचुरल गैस मिनिस्ट्री को सुझाव दिया है कि एलपीजी से जुड़ी ‘सब्सिडी’ ईंधन के स्पष्ट रूपों को अपनाने में दिक्कत पैदा कर रही है। मंत्रालय को लिखे नोट में नीति आयोग ने यह बात कही है। नीति आयोग ने कहा है ‎कि एलपीजी पर सब्सिडी पाने वाले पात्र लाभार्थियों को डीबीटी के माध्यम से खाना पकाने की सब्सिडी दी जानी चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper