ऐसे पता करिए सामान्य सा दिखने वाला सर्दी-जुकाम कही कोरोना वायरस तो नहीं…

लखनऊ: देश में कोरोना वायरस के मामले धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं। कोरोना वायरस की वजह से लोगों में घबराहट और डर का माहौल बन रहा है। दरअसल, जिस भी शख्स को खांसी या छींक है या किसी को सांस लेने में तकलीफ है लोग इसको कोरोना वायरस से जोड़ कर देख रहे है। इस बेहद खतरनाक और जानलेवा वायरस के मद्देनजर आपका जागरूक होना जरूरी है लेकिन घबराने की जरूरत नहीं।

लिहाजा कोरोना वायरस से घबराने और परेशान होने की बजाए जागरुक बनें और वायरस को फैलने से रोकने के लिए जरूरी प्रिकॉशन्स का ध्यान रखें। लेकिन में सबसे बड़ा सवाल उठता है कि कैसे पता चले कि किसी को सामान्य सर्दी-जुकाम है या फिर कोरोना वायरस? कब करवाना चाहिए कोरोना वायरस का टेस्ट? इन्ही सवालों के जवाब हम आपके लिए लेकर आए है।

डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना वायरस के ज्यादातर मामले कॉमन कोल्ड और फ्लू जैसे ही होते हैं। अगर किसी व्यक्ति को फ्लू के कुछ हल्के लक्षण नजर आ रहे हैं तो उन्हें कोरोना वायरस का टेस्ट करवाने की जरूरत नहीं। अगर आपको लो ग्रेड फीवर, सर्दी खांसी है तो घर पर आराम करें और खूब सारा लिक्विड और फ्लूइड लें। लेकिन जिन मरीजों को हाई ग्रेड फीवर है, सांस लेने में तकलीफ महसूस हो रही है, उन मरीजों को अपने लक्षणों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

डॉक्टरों का कहना है कि इन्फ्लूएंजा और कोरोना वायरस के लक्षण एक जैसे ही हैं और इसलिए इस वक्त मेडिकली इन दोनों में अंतर करना मुश्किल है। ऐसे में अगर आपकी नाक बह रही है, हल्का सर्दी जुकाम, खांसी और बुखार है तो आप ज्यादा से ज्याद रेस्ट करें, इम्यूनिटी बढ़ाने की कोशिश करें और ऐंटी-वायरल दवाइयों का सेवन करें।

डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना वायरस मुख्य रूप से बुजुर्गों को अपना निशाना बना रहा है। ऐसे में अगर आपको पहले से कोई बीमारी है, डायबीटीज, दिल से जुड़ी बीमारी, स्ट्रोक या सांस से जुड़ी बीमारी है तो फ्लू जैसे लक्षणों को भी हल्के में न लें और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। कोरोना वायरस की वैक्सीन बनने में अब भी 8 से 12 महीने का वक्त लग सकता है

कोरोना वायरस के लक्षण कुछ इस तरीके के होते हैं

बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण हैं
इस वायरस में लगातार खांसी आती रहती है
इसमें अचानक बुखार, नाक बहना, सांस लेने में तकलीफ और गले में खराश जैसी परेशानियां दिखती हैं
इसके लक्षण शुरूआत में सामान्य फ्लू की तरह ही होते हैं
सिर में तेज दर्द,निमोनिया, ब्रॉन्काइटिस और गले में खराश
संक्रमण गंभीर होने पर निमोनिया और गुर्दे से जुड़ी बीमारियां होने लगती हैं
यदि लक्षण आम सर्दी से ज्यादा महसूस हों तो किसी अच्छे डॉक्टर को दिखाना चाहिए

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper