ऑपरेशन ऑलआउट से बौखलाया पाकिस्तान, चीनी मिसाइलों से कर रहा है हमला

राजौरी: कश्मीर घाटी में सेना, सीआरपीएफ व पुलिस के ऑपरेशन ऑलआउट से आतंकी संगठनों के कमांडरों के साथ ही पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और पाकिस्तानी सेना हताश है। इसी का नतीजा है कि बौखलाहट में पाकिस्तानी सेना सीमा पर तैनात जवानों पर हमले कर रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हमले से एक दिन पहले यानी शनिवार को पाकिस्तानी सेना के मुख्यालय रावलपिंडी में एक उच्च स्तरीय बैठक हुई थी।

बैठक में पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा के साथ आईएसआई प्रमुख नवीद मुख्तार और कई आतंकी संगठनों के आकाओं ने भाग लिया था, जिसमें साफ कहा गया कि कश्मीर में ऑपरेशन ऑलआउट से हमें काफी नुकसान हो रहा है। हमारे आतंकी भारतीय क्षेत्र में दाखिल होने में नाकाम हो रहे हैं। ऐसे में आतंकियों का मनोबल बढ़ाने के लिए भारतीय सेना के जवानों व चौकियों को निशाना बनाया जाए। सीमा पार बैठक के बाद लांचिंग पैडों पर आतंकियों की संख्या बढ़ा दी गई है।

सूत्रों का कहना है कि भिंबर सेक्टर के उस पार करीब 80 आतंकी घुसपैठ के लिए तैयार बैठे हैं। नौशहरा और बालाकोट सेक्टर के उस पार 30 से अधिक आतंकी घुसपैठ की फिराक में हैं। पाकिस्तानी सेना ने जिस तरह एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल दाग कर भारतीय पोस्ट को तबाह किया, वह सोची समझी रणनीति का हिस्सा है। अब पाकिस्तानी सेना भारतीय चौकियों पर आइईडी लगाकर हमला कर सकती है। इसके लिए पाकिस्तानी सेना आइईडी लगाने में माहिर आतंकियों को सीमा के नजदीक ले आई है। पाकिस्तान ने रविवार को भारतीय चौकियों पर छह मिसाइलें दागी थीं। सैन्य सूत्रों के अनुसार, राजौरी में भारतीय चौकी पर गाइडेड मिसाइल दाग कर पाकिस्तान ने परोक्ष युद्ध को नया रंग दे दिया है।

अब अधिक तबाही मचाने के लिए पाकिस्तानी सेना सस्ते मोर्टार की जगह चीन के सहयोग से बनाई महंगी मिसाइल का इस्तेमाल कर रही है। रविवार को दागी मिसाइलें चीन के सहयोग से बनाई गई थीं। चीनी मिसाइल करीब चार किलोमीटर तक वार करती है। पहले पाकिस्तानी सेना सिर्फ 82 एमएम व 120 एमएम के मोर्टार दागती थी, जो कम नुकसान पहुंचाती थी। मिसाइल उस जगह को पूरा तबाह कर देती है, जहां यह टकराती है। यही कारण है कि रविवार को दागी गई मिसाइल से दुश्मन के निशाने पर रही भारतीय सेना की बारूद पोस्ट पूरी तरह से तबाह हो गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper