ओडिशा में जादू-टोने के शक में नाबालिग की हत्या, शव टुकड़ों में काट गड्ढे में गाड़ा

भुवनेश्वर: ओडिशा के मलकानगिरी जिले से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां 14 साल के नाबालिग की ईंट-पत्थर से कूचकर कथित तौर पर हत्या कर दी गई. उसे हत्यारों ने हत्या के बाद टुकड़े-टुकड़े में काटकर गड्ढे में गाड़ दिया था.

नाबालिग लड़का 7वीं में पढ़ता था. घटना नक्सल प्रभावित मलकानगिरी जिले के केंदुगुडा गांव की है. पुलिस सूत्रों का कहना है कि हत्या जादू-टोना के संदेह के कारण हुई थी. वहीं, परिजनों ने आरोप लगाया कि आरोपी जंगल में एक बैठकी के लिए नाबालिग लड़के और उनके दो रिश्तेदारों को ले गए थे. खाली स्थान पर मौका देखकर उन्होंने उन पर हमला कर दिया. बाकी दोनों किसी तरह बच गए और नाबालिग लड़का उनके चंगुल से भागने में सफल नहीं हो पाया, जिसके बाद हत्यारों ने उसकी हत्या कर दी.

5 जून को नाबालिग के भाई ने पुलिस स्टेशन में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. मलकानगिरी पुलिस स्टेशन के अधिकारी रामप्रसाद नाग मौके पर पहुंचे और जांच के दौरान नाबालिग का शव का बरामद किया. इस मामले में पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया, जिन्होंने सख्ती से पूछताछ बाद जुर्म स्वीकार कर लिया.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि केंदुगुडा गांव में पिछले तीन महीनों में अज्ञात बीमारी से 17 ग्रामीणों की मौत हो चुकी है. हालांकि स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव का दौरा कर रही है और रोगियों का इलाज कर रहे हैं, फिर भी उन्हें बीमारी के मूल कारण का पता नहीं चल पाया है. ग्रामीणों को शक था कि कुछ टोना-टोटका किया जा रहा है, उन्हें इसके पीछे नाबालिग के परिवार पर शक था.

मलकानगिरी के एसपी ऋषिकेश ने कहा कि शिकायत मिलने के बाद हमारी टीम मौके पर पहुंची और शव को बरामद किया. इस मामले में चार आरोपियों के खिलाफ आईपीसी धारा- 302, 201 और अन्य तहत मामला दर्ज किया गया है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper