और एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ क्रिमिनल डिफमेशन केस किया

दिल्ली ब्यूरो: मी टू अभियान के तहत यौन उत्पीड़न के शिकार बने पूर्व संपादक और विदेश रजय मंत्री एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ क्रिमिनल डिफमेशन केस कर दिया है। अकबर ने यह केस दिल्ली के पटियाला कोर्ट में किया है। प्रिया रमानी पहली महिला पत्रकार थीं जिन्होंने सबसे पहले अकबर के खिलाफ यौन उत्पीड़न की शिकायत की थी।

यौन शोषण के आरोपों से घिरे विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर के अपने इस्तीफा से इनकार करने के बाद उनपर आरोप लगाने वाली 5 महिला पत्रकारों ने कहा कि वो अब भी अपने आरोपों पर कायम हैं। इनमें से 2 ने कहा कि अकबर के इस्तीफा नहीं देने के फैसले से वो मायूस हैं मगर उन्हें इससे कोई आश्चर्य नहीं हुआ।

द एशियन एज की रेसीडेंट एडिटर सुपर्णा शर्मा ने द इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ‘मैं अपने साथ हुई दो घटनाओं की गवाह हूं- पहले में उन्होंने (एमजे अकबर) ने मेरी ब्रा की स्ट्रैप पकड़ी थी और दूसरे में जब वो मेरे ब्रेस्ट को लगातार घूर रहे थे। मैं इस बात की भी गवाह हूं कि उन्होंने दफ्तर में काम करने वाली अन्य सहकर्मी महिलाओं के साथ भी ऐसा कुछ ही किया।

मैं अकबर की प्रतिक्रिया (इस्तीफा नहीं देने के फैसले) से निराश हूं मगर मुझे आश्चर्य नहीं है। यह एक लंबी चलने वाली लड़ाई है। इस मामले में अगला कदम कानूनी होगा। ‘

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper