कन्हैया ने दीपिका पादुकोण के जेएनयू में छात्रों का साथ देने के लिए शुक्रिया अदा किया

मुंबई। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी एवं पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार सहित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के कई पूर्व छात्रों ने विश्वविद्यालय में हिंसा को लेकर केन्द्र की मोदी सरकार पर हमला बोला और आरोप लगाया कि सरकार संविधान को ‘‘नष्ट’’ करने का प्रयास कर रही है। वहीं कन्हैया ने दीपिका पादुकोण के जेएनयू में छात्रों का साथ देने के लिए शुक्रिया अदा किया।

अपने ट्वीट में कन्हैया लिखते हैं, ‘और भी ज्यादा शक्ति आपको हासिल हो और आपके सहयोग, एकबद्धता के लिए शुक्रिया। आज आप को ट्रोल और गालियां दी जा सकती हैं, लेकिन इतिहास आपके साहस और भारत के विचार के साथ खड़े रहने के लिए याद रखेगा।’ दरअसल, कन्हैया की मौजूदगी में दीपिका ने आइशी घोष का समर्थन किया। इस दौरान कन्हैया ने आजादी के नारे भी लगाए।

विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रों की बैठक को संबोधित करते हुए येचुरी ने जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराये जाने पर सवाल उठाया और आरोप लगाया कि यह सोच समझ कर उठाया गया कदम है। माकपा महासचिव ने कहा, ‘‘हम संविधान की रक्षा कर रहे हैं और यदि कोई राष्ट्रद्रोही है तो वह सरकार है जो संविधान को नष्ट करने का प्रयास कर रही है।’’

भाकपा नेता एवं जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने कहा, ‘‘जेएनयू सदैव उन मुद्दों की चर्चा करता है जिनकी खबर भी नहीं बनती। सरकार ने गलती कर दी है। उन्होंने एक बुद्धिमान और मेहनती शत्रु को चुन लिया है।’’ उन्होंने कहा कि जब उन्हें ‘‘टुकड़े टुकड़े गैंग’’ का नेता कहा जाता है तो वह गौरवान्वित महसूस करते हैं।

दरअसल, दीपिका पादुकोण ने जहां जेएनयू में जाकर छात्रों पर हमले के खिलाफ अपनी मौजूदगी दर्ज कराई, वहीं विभिन्न साक्षात्कारों में उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से मोदी सरकार और पुलिस के रोल पर भी सवाल उठाए। फिल्म पद्मावत के दौरान हिंदू संगठनों के निशाने पर आई पादुकोण ने इस बार जेएनयू को आधार बनाकर अपनी पीड़ा को भी जाहिर किया।

बता दें, JNU हमले मामले को लेकर बॉलीवुड दो गुटों में बंटा हुआ है। स्वरा भास्कर, अनुराग कश्यप, रितेश देशमुख, जेनेलिया डिसूजा, राजकुमार राव जैसे कलाकार खुलकर जेएनयू हमले की निंदा कर रहे हैं, वहीं बॉलीवुड का बड़ा धड़ा चुप्पी साधे हुए हैं। अमिताभ बच्चन की चुप्पी को भी निशाना बनाया जा रहा है। वहीं, अनुपम खेर, विवेक अग्निहोत्री जेएनयू प्रशासन, पुलिस और मोदी सरकार के साथ खड़े नजर आ रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper