कपूर और मुल्‍तानी मिट्टी को साथ में मिलाकर लगाएं, दाग धब्‍बे और मुंहसों का करें सफाया

 

लखनऊ: पूजा सामग्री के साथ मिलने वाला कपूर एक्‍ने-मुंहासों और फुंसियों को दूर करने के लिए रामबाण उपाय है। इसमें एंटी बैक्‍टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो स्‍किन से जलन, लालिमा या खुजली आदि को दूर करता है।

वो लड़के या लड़कियां जो स्‍किन में मुंहासों से परेशान रहते हैं, उनके लिए कपूर और मुल्‍तानी मिट्टी का जोड़ बेहद फायदेमंद है। आज हम आपको एक ऐसा फेस पैक बनाना सिखाएंगे जिसे लगाने से रातभर में आपकी स्‍किन बिल्‍कुल स्‍पॉटलेस हो जाएगी। और यदि नियमित रूप से इस्तेमाल किया जाए तो यह आपके मुंहासों के दाग या निशान हल्‍के हो जाएंगे। लिए जानते हैं इसे फेस पैक को घर पर कैसे बनाया जाए…

​सामग्री-

2 बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी
½ छोटा चम्मच कपूर या कपूर का तेल
1 बड़ा चम्मच गुलाब जल

उपयोग की विधि
सभी सामग्री को एक साथ मिलाएं। अपने चेहरे को अच्‍छी तरह से धो लें। मिश्रण को अपने हाथ-पैर या चेहरे पर लगाएं। इसे 15 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें। फिर चेहरे को सादे पानी से धो लें। यदि आपकी स्‍किन ड्राय है तो आप गुलाबजल की जगह पर नारियल तेल या शहद मिला सकती हैं।

​स्‍किन के लिए मुल्‍तानी मिट्टी
आपकी स्‍किन की चाहे जो कुछ भी समस्‍या हो, मुल्‍तानी मिट्टी हमेशा उसे ठीक करने के काम आती है। चाहे कील-मुहांसों की दिक्कत हो या फिर डार्क स्पॉट्स हों, मुल्तानी मिट्टी इन सबसे छुटकारा दिलाने का गुण रखती है। गर्मियों के मौसम में मुल्तानी मिट्टी के फेस पैक्स आपकी स्किन के लिए बहुत ज्‍यादा फायदेमंद होते हैं।

​कपूर से पाएं बेदाग स्‍किन
न सिर्फ कपूर बल्‍कि कपूर का तेल भी हर तरह की स्‍किन के लिए अच्‍छा माना जाता है। इसे अपने ब्‍यूटी रूटीन का हिस्‍सा बना कर आप इससे फोड़े-फुंसी और मुंहासे ठीक कर सकती हैं। इसे नियमित लगाने से मुंहासों में कमी आती है और पुराने दाग-धब्‍बे भी जड़ से खत्‍म हो जाते हैं। स्‍किन के साथ-साथ आप इसका इस्‍तेमाल बालों को मजबूत और घना बनाने के लिए भी कर सकती हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper