कम्युनिस्ट पार्टी ने रिब्रांडिंग में लगा दी प्रॉपेगैंडा मशीन, कोरोना से चिनफिंग की छवि को खतरा?

पेइचिंग: अभी ज्यादा दिन नहीं हुए हैं जब चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कोरोना वायरस को देश के लिए सबसे बड़ी हेल्थ इमर्जेंसी बताया था और इसका इकॉनमी पर बड़ा असर होने को लेकर अपनी कम्युनिस्ट पार्टी को आगाह किया था। अब लग रहा है कि चिनफिंग की इस चेतावनी से उनकी पार्टी काफी ऐक्टिव हो गई है और कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अपनी और पार्टी की छवि सुधारने में जुट गई है। आपको बता दें कि अकेले चीन में 2788 लोगों की इस जानलेवा वायरस से मौत हो चुकी है और 78,824 लोग इससे प्रभावित हैं।

इमेज सुधारने में चीन का मीडिया भी जुटा
न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट की मानें तो कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना ने कोरोना को लेकर व्हिसलब्लोअर्स को चुप करा दिया है और कई महत्वपूर्ण जानकारियां दबा दी हैं जिस कारण यह पूरे देश में फैल चुका है। सरकार जनता के गुस्से का सामना कर रही है। डूबती इमेज के बीच कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना ने अपनी प्रॉपेगैंडा मशीन को काम पर लगा दिया है ताकि अपनी छवि सुधारी जा सके। इस मिशन में सरकारी मीडिया भी ऐक्टिव है और उसने कोरोना में सरकार की प्रतिक्रिया को विश्व के लिए ‘हेल्थ मॉडल’ तक बता डाला।

संकट को भुनाने में जुटा चीन, चिनफिंग की रिब्रांडिंग
चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि वायरस से लड़ाई में कुछ देशों ने बेहद धीमी प्रतिक्रिया दी। वहीं, चीन की ऑनलाइन प्रॉपेगैंडा मशीन सोशल मीडिया पर ‘सिर्फ चीनी मॉडल ही सफल साबित हुआ है’ हैशटैग का इस्तेमाल कर रही है। इतना ही नहीं, पार्टी के नेता इस संकट की घड़ी को राष्ट्रपति चिनफिंग के मजबूत नेतृत्व का प्रमाण बताने में जुट गए हैं। उन्होंने तो चिनफिंग को कोरोना से लड़ाई में ‘शक्तिशाली नेता’ के रूप में दिखाने के लिए 6 अलग भाषाओं में किताब प्रकाशित करने की भी घोषणा कर दी है। इसमें यह दिखाने की कोशिश की जाएगी कि चिनफिंग को अपने लोगों की कितनी चिंता है। यह निश्चित रूप से चिनफिंग और उनकी पार्टी की रिब्रांडिंग की कोशिश है।

आपको बता दें कि माओ के बाद चिनफिंग देश के सबसे प्रभावशाली नेता बन चुके हैं। उनकी प्राथमिकता चीन की आर्थिक और मिलिटरी शक्ति का दुनियाभर में विस्तार की रही है और वह यह दिखाना चाहते हैं कि चीन दुनिया में एक जिम्मेदार सुपरपावर की भूमिका निभा सकता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper