कराची में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस का लाठीचार्ज; एक की मौत, महिलाएं-बच्चे भी घायल

कराची: पाकिस्तान में कराची के शाहरा-ए-फैसल में विरोध प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले दागे हैं। इसमें एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई, जबकि मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट-पाकिस्तान (एमक्यूएम-पी) के कई सदस्य घायल हैं, जिनमें महिलाएं भी शामिल हैं। जियो न्यूज के अनुसार, एमक्यूएम-पी के सांसद खालिद मकबूल सिद्दीकी ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि मारे गए कार्यकर्ता की पहचान असलम के रूप में हुई है। सिद्दीकी ने कहा, “हम अपने कार्यकर्ता की हत्या के लिए मुख्यमंत्री सिंध मुराद अली शाह के खिलाफ आतंकवाद की धारा के तहत केस दर्ज कराएंगे।”

पार्टी कार्यकर्ता आज शोक दिवस मनाएंगे
सिद्दीकी ने बताया कि असलम के अंतिम संस्कार की प्रार्थना आज कराची में होगी। उन्होंने बताया कि एमक्यूएम के कई सदस्य अस्पताल में भर्ती हैं, जो वे पुलिस लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले दागने के बाद घायल हो गए थे। एमक्यूएम-पी के सीनियर नेता ने कहा कि पार्टी ने पहले कराची में आज ब्लैक डे की घोषणा की थी, लेकिन अब वह पार्टी कार्यकर्ता की मौत के कारण शोक दिवस मनाएगी। एमक्यूएम-पी के कार्यकर्ता और नेता विवादास्पद लोकल गवर्नमेंट बिल के विरोध में बुधवार को बड़ी संख्या में इकट्ठा हुए थे। प्रदर्शनकारियों ने धरना देने के लिए मुख्यमंत्री आवास पहुंचने का प्रयास किया। इसके चलते शहर के मेन रोड पर यातायात का बुरी तरह प्रभावित हुआ।

प्रदर्शन में भाग लेने वाली महिलाएं और बच्चे भी घायल
पुलिस ने भीड़ को रेड जोन में जाने से रोकने के लिए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। एमक्यूएम-पी के नेताओं ने कहा कि विरोध प्रदर्शन में भाग लेने वाली कई महिलाओं और बच्चों को चोटें आईं। पुलिस ने एमक्यूएम-पी के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार भी किया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper