करुणानिधि की हालत नाजुक, अस्पताल के बाहर जुटे समर्थक

चेन्नई: द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) के अध्यक्ष और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि की तबीयत बहुत बिगड़ गई है। मंगलवार को उनकी बेटी और डीएमके नेता ने कावेरी अस्पताल के बाहर मौजूद लोगों से मुलाकात की। करुणानिधि को जुलाई के अंतिम सप्ताह में करुणानिधि की सेहत खराब होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कावेरी अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में डीएमके के समर्थक जुटे हुए हैं। रात भर समर्थक उनके जल्दी स्वस्थ होने की प्रार्थना करते रहे। डीएमके प्रमुख एम. करुणानिधि पिछले काफी समय से बीमार चल रहे हैं। कुछ दिनों से उनकी तबियत ज्यादा बिगड़ गई है। कावेरी अस्पताल की ओर से सोमवार शाम को जारी मेडिकल बुलेटिन में करुणानिधि की हालत में गिरावट की बात कही गई है।

चिकित्सकों ने बताया कि अगले 24 घंटे उनके लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। बीती 29 जुलाई से कावेरी अस्पताल के आईसीयू में उनका इलाज चल रहा है। करुणानिधि पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे हैं। अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉ. अरविंदन सेल्वराज ने बुलेटिन में कहा कि उम्र संबंधी बीमारियों को देखते हुए उनके अंग काम करते रहें, यह बरकरार रख पाना चुनौती बना हुआ है। उनकी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है। ऐक्टिव मेडिकल सपॉर्ट के साथ उनका इलाज चल रहा है। इलाज का उन पर कितना असर होता है, सब कुछ इसी पर निर्भर करता है।

सोमवार शाम इस सूचना के बाद से अस्पताल के बाहर लोगों की भीड़ जुट गई है। करुणानिधि की पत्नी दयालु अम्मल भी अस्पताल पहुंच गईं हैं। कनिमोझी भी पहुंच चुकी हैं। 29 जुलाई को अस्पताल में भर्ती होने के बाद पहली बार उनकी पत्नी अस्पताल आई हैं। वह बहुत वृद्ध हैं और उन्हें ह्वीलचेयर पर ही कहीं लाया ले जाया जा सकता है। परिवार के दूसरे सदस्य और पार्टी के वरिष्ठ नेता भी अस्पताल में मौजूद हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper