कर्ज न चुकाने पर किसान जेल नहीं जाएगा : राहुल

टीकमगढ़: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस की ‘न्याय योजना’ को देश की आर्थिक स्थिति में बदलाव लाने वाली योजना करार देते हुए किसानों से वादा किया है कि, कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद कर्ज न चुकाने वाले किसानों को जेल नहीं भेजा जाएगा। मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ संसदीय क्षेत्र के जतारा में मंगलवार को कांग्रेस उम्मीदवार के समर्थन में आयोजित जनसभा में गांधी ने कहा, “केंद्र की मोदी सरकार ने नोटबंदी कर और गब्बर सिंह टैक्स (जीएसटी) के जरिए देश की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया, बेरोजगारी बढ़ा दी, मगर कांग्रेस ने तय किया है कि, सत्ता में आते ही न्याय योजना के जरिए गरीबों के खाते में 6000 रुपये प्रतिमाह और 72 हजार रुपये सालाना जमा किए जाएंगे।”

इस राशि के गरीबों के खाते में आते ही जहां बाजार में, दुकानों में खरीदारी होने लगेगी, फैक्ट्री में उत्पादन होगा और युवाओं को रोजगार मिलेगा तो साथ ही देश की अर्थव्यवस्था सुधर जाएगी। राहुल गांधी ने नोटबंदी को देश के गरीबों के लिए नुकसानदायक बताते हुए कहा, “नोटबंदी ने लोगों की जेब से पैसा निकाल लिया और प्रधानमंत्री मोदी ने यह पैसा अपने दोस्त उद्योगपतियों की जेब में डाल दिया।” उन्होंने कहा, “नोटबंदी के चलते एक भी चोर, कालेधन वाला बैंकों की लाइन में लगा था क्या, मगर बुंदेलखंड का किसान, युवा, बेरोजगार लगा था। कांग्रेस ने तय किया है कि, सत्ता में आने पर न्याय योजना शुरू की जाएगी। मोदी ने जहां गरीबों का पैसा छीनकर अमीरों की जेब में डाला है, तो कांग्रेस इन अमीरों की जेब से पैसा निकालकर गरीबों की जेब में डालेगी।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उद्योगपतियों का साथ देने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, “कांग्रेस के सत्ता में आने पर विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी सहित अन्य उद्योगपतियों को नहीं छोड़ा जाएगा, उनकी जेब से पैसा निकालकर न्याय योजना के तहत लोगों की जेबों में डाला जाएगा। नरेंद्र मोदी ने 15 लाख देने का झूठ लोगों से बोला, मगर मैं झूठ नहीं बोलूंगा। 15 लाख खाते में नहीं डाला जा सकता, मगर 3 लाख 60 हजार रुपये पांच साल में बैंक खातों में डाला जा सकता है।”कर्ज न चुकाने पर किसानों को जेल भेजे जाने का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, “पिछले दिनों किसानों ने बैंकों से कुछ हजार के कर्ज न चुकाए जाने पर जेल भेजे जाने का दर्द साझा किया। इस पर कांग्रेस ने तय किया कि, जब उद्योगपति हजारों करोड़ रुपये लेकर बाहर रहते हैं और उन्हें जेल नहीं भेजा जाता तो किसानों को भी जेल नहीं भेजा जाएगा। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में यह वादा किया है।”

इस सभा में मुख्यमंत्री कमलनाथ, राज्य सरकार के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, ब्रजेंद्र सिंह राठौर सहित अनेक नेता मौजूद थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper