कल से उत्तर प्रदेश में भी कुछ शर्तों के साथ नए तरीके से लागू होगा लॉकडाउन 4

लखनऊ, कोरोना महामारी के संकट से बचाने के लिए देशभर के साथ उत्तर प्रदेश में भी सोमवार से लॉकडाउन 4 लागू हो जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के साथ ही यूपी की योगी सरकार ने यहां भी लॉकडाउन 4 को नए रंग रूप वाला बनने की तैयारी शुरू कर दी थी। गृह मंत्रालय के अनुसार अब रेड जोन, ग्रीन जोन और ऑरेंज जोन के अलावा कंटेनमेंट जोन और बफर जोन भी शामिल किया गया है। अब देखना है कि यूपी सरकार राज्य के किन इलाकों में छूट देती है और कहां इसको लागू करने में सक्ती दिखाती है।

लॉकडाउन 17 मई को खत्म नहीं होगा, यह तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले ही स्पष्ट कर दिया। इस घोषणा के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बैठक में यूपी कैबिनेट की भी एक पक्ष में एक राय रही कि लॉकडाउन बढ़ाना चाहिए, लेकिन आर्थिक गतिविधियों को छूट बढ़ाने और दुकानें-बाजार अल्टरनेट व्यवस्था में खोलने का भी सुझाव मंत्रियों ने दिया है। लॉकडाउन-4 के संबंध में केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से सुझाव मांगे थे, जिसके बाद यह बैठक मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर प्रदेश के कैबिनेट मंत्रियों के साथ की थी। बैठक में शामिल मंत्रियों के मुताबिक, सभी ने कहा था कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के जो हालात हैं, उसे देखते हुए लॉकडाउन जरूर बढ़ना चाहिए।

इसके पीछे तर्क दिया कि अभी प्रवासी श्रमिक-कामगारों के दूसरे राज्यों से आने का सिलसिला चल रहा है। उनकी सभी की भी चौदह दिन की क्वारंटाइन अवधि पूरी होने तक लॉकडाउन नहीं खोला जाना चाहिए। यदि आवागमन सुगम हुआ तो संक्रमण तेजी से फैलने का खतरा बढ़ जाएगा। ग्रीन और ऑरेंज जोन में आर्थिक गतिविधियों की छूट बढ़ाने की पैरवी भी लगभग सभी ने की थी। इसके अलावा सभी के अलग-अलग कुछ सुझाव भी थे। किसी ने कहा कि मोची, कारपेंटर, मैकेनिक जैसे काम को खोल देना चाहिए। यहां भीड़ ज्यादा होती नहीं है और ऐसे कामगार हर दिन कमाने-खाने वाले होते हैं। कुछ ने सुझाव दिया कि खाने-पीने की दुकानों को निर्धारित अवधि के लिए सुबह-शाम खोला जा सकता है। इसके साथ ही बाजार में भीड़ नियंत्रित करने के लिए अलग-अलग वस्तु से जुड़ी दुकानों को अलग-अलग दिन या समय पर अल्टरनेट व्यवस्था के तहत खोला जा सकता है।

सीएम ने सख्ती के दिए थे संकेत
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को एक टीवी न्यूज चैनल से बात करते हुए संकेत दिए थे कि हो सकता है यूपी में लॉकडाउन 4 के दौरान ज्यादा छूट ना मिले। इसके पीछे का तर्क देते हुए सीएम ने कहा कि प्रदेश में बहुत सारे लोग बाहर से आए हैं। यह हमारे लिए चुनौतीपूर्ण समय है। हम नहीं चाहते कि कम्युनिटी स्प्रेडिंग हो। सीएम योगी ने भीड़भाड़ वाले प्रतिष्ठानों को नहीं खोलने का संकेत दिया। कहा कि ऐसे एरिया वाले प्रतिष्ठानों को अभी हम खोल दें, ऐसा मुझे नहीं लगता। मुख्यमंत्री ने कहा कि जितने श्रमिक लोग आये हैं, यह हमारे अपने हैं, हमारी ताकत है। इसमें किसी का भी अनादर न हो।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper