गजोधर भइया को ब्लैकमेल कर मांगे 10 लाख

लखनऊ: कानपुर के गजोधर भइया का किरदार निभाकर लोगों को ठहाके लगाने पर मजबूर करने वाले हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव से 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गयी है। आरोप है कि आरोपित खुद को सपा का कार्यकर्ता बताता है। धमकाता है कि उसके पास राजू व एक महिला के बीच के कुछ निजी पलों के वीडियो हैं। वह उक्त वीडियो वॉयरल करने के नाम पर उन्हें ब्लैकमेल कर रुपयों की मांग कर रहा है। राजू श्रीवास्तव ने डीजीपी ओपी सिंह को पत्र भेजकर मामले की शिकायत की। डीजीपी के निर्देश पर हजरतगंज पुलिस ने गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर साइबर क्राइम सेल की मदद से पड़ताल शुरू कर दी है। वहीं देर रात आरोपी राहुल सिंह को गिरफ्तार लिया गया है।

इंस्पेक्टर हजरतगंज राधारमण सिंह ने बताया कि हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव वर्तमान में यूपी फिल्म विकास परिषद के चेयरमैन हैं। उनका आफिस मुम्बई के अंधेरी स्थित मारीगोल्ड बिल्डिंग में है। डीजीपी को भेजे गये पत्र में राजू श्रीवास्तव ने कहा कि करीब तीन माह से राहुल नाम का शख्स फोन कर उन्हें परेशान कर रहा है। वह खुद को समाजवादी पार्टी के युवजन सभा का कार्यकर्ता बताता है।फोन कर राहुल उनसे कहता है कि उसके पास वर्ष 2013 का एक वीडियो है, जिसमें घर के अंदर राजू श्रीवास्तव व एक महिला के बीच कुछ निजी पल हैं। धमकाता है कि अगर यह वीडियो सपा, बसपा व कांग्रेस पार्टी को दे दिया तो उसका करियर तबाह हो जाएगा।

कुछ दिन पहले राहुल ने उसे फोन कर ब्लैकमेल करते हुए 10 लाख रुपये की मांग की। रुपये न देने पर वीडियो सोशल मीडिया पर वॉयरल करने की धमकी दी।राजू ने बताया कि फोन पर बातचीत के दौरान राहुल ने उनसे कहा कि ब्लैकमेलिंग में वह महिला और उसका कथित पति मनीष भी शामिल है। बोला कि वर्तमान में दम्पत्ति आर्थिक तंगी झेल रहे हैं। लिहाजा दिक्कतें दूर करने के लिए रुपये मांगने की योजना बनायी। प्रार्थना पत्र में राजू श्रीवास्तव ने कहा कि आरोपित राहुल शातिर जालसाज है। उसने एक महिला को धोखा देकर उससे शादी की थी। इस मामले में पुलिस ने उसे जेल भी भेजा था।राजू श्रीवास्तव ने बातचीत के दौरान शातिर राहुल से वह वीडियो भेजने के लिए कहा लेकिन उसने नहीं भेजा। राजू का कहना है कि ऐसा कोई भी वीडियो उनका नहीं है। आरोपित उसे जबरन फंसाकर ब्लैकमेल कर रुपयों की मांग कर रहे हैं।

परेशान राजू श्रीवास्तव ने डीजीपी से शिकायत की। जिसके बाद हजरतगंज पुलिस ने राहुल, मनीष व एक अज्ञात महिला के खिलाफ रंगदारी, आईटी एक्ट समेत गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। इंस्पेक्टर ने बताया कि पीड़ित राजू श्रीवास्तव ने शिकायत में दो मोबाइल नम्बर भी सौंपे हैं। जिससे धमकियां मिल रही हैं। सर्विलांस की मदद से आरोपितों की तलाश में टीमें लगायी गयी हैं। जबकि देर रात आरोपी राहुल को गिरफ्तार कर लिया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper