कानपुर मेट्रोः प्रयॉरिटी कॉरिडोर के अनुभवों के आधार पर आगामी कॉरिडोर्स के काम की गति होगी और भी तेज़

लखनऊ: उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लि. (यूपीएमआरसी) के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने आज कानपुर मेट्रो के प्रयॉरिटी कॉरिडोर पर चल रहे सिविल निर्माण कार्य की समीक्षा की और ज़रूरी दिशा-निर्देश दिए। केशव ने मोतीझील से अपने दौरे की शुरुआत की और आईआईटी, कानपुर तक सभी 9 स्टेशनों पर सिविल निर्माण की प्रगति का जायज़ा लिया। अपने दौरे में केशव ने यूपी मेट्रो के इंजीनियरों को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि शहरवासियों की सुविधा पर पूरा ध्यान दिया जाए और साइट पर जैसे-जैसे पाइल्स और पाइल कैप्स का काम पूरा होता जाए, वैसे-वैसे सड़क पर लगी बैरिकेडिंग को संकरा करते चलें; इससे सड़कों पर वाहनों के लिए जगह बढ़ जाएगी।

कानपुर मेट्रो के सिविल निर्माण की तेज़ गति पर संतुष्टि जताते हुए उन्होंने कहा कि यूपी मेट्रो की टीम प्रयॉरिटी कॉरिडोर पर काम करते हुए छोटे-छोटे लक्ष्य निर्धारित कर रही है और उन्हें पूरा करते हुए तेज़ी के साथ आगे बढ़ रही है। हमारी नज़र उन उपलब्धियों पर नहीं है, जो हमने इतने कम समय में हासिल कीं, बल्कि हमारा पूरा ध्यान उन लक्ष्यों पर है, जो हमें पूरे करने हैं। प्रयॉरिटी कॉरिडोर पर मेट्रो परिचालन के लिए विभिन्न तकनीकी सिस्टम्स लगाए जाने हैं।

एकबार इन सिस्टम्स की तकनीक के निर्धारण और इनकी कमिशनिंग के बाद, आईआईटी से नौबस्ता के बीच बनने वाले कॉरिडोर-1 और कृषि विश्वविद्यालय से लेकर बर्रा-8 तक बनने वाले कॉरिडोर-2 के काम की रफ़्तार और भी तेज़ हो सकेगी। कानपुर में काम की गति अभी और भी तेज़ होगी और यूपी मेट्रो निर्धारित समय-सीमा के अंदर ही परियोजना को पूरा करेगा। साथ ही, लखनऊ की तरह कानपुर में भी मेट्रो परियोजना के तैयार होने के बाद कॉरिडोर के आस-पास के इलाकों में इन्फ़्रास्ट्रक्चर बेहतर और समृद्ध होगा।”

कॉरिडोर का निरीक्षण करने के बाद प्रबंध निदेशक लखनपुर स्थित कास्टिंग यार्ड पहुंचे, जहां पर उन्होंने लेबर कॉलोनी में श्रमिकों के लिए उपलब्ध सुविधाओं का जायज़ा लिया और पौधारोपण भी किया। कास्टिंग यार्ड से निकलकर श्री केशव ने पॉलिटेक्निक परिसर में बन रहे मेट्रो डिपो का निरीक्षण किया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper