कानून व्यवस्था सुधरी यूपी की छवि बदली, पूर्ववर्ती सरकारों में होता था भ्रष्टाचार

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने पूर्व की सपा व बसपा सरकारों को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहाकि योगी सरकार के बजट में किसानों की आय को दोगुनी करने व नौजवानों को रोजगार देने का ध्यान रखा गया है। पूर्व की सरकारों में बजट का आवंटन जाति, धर्म, व समुदाय क्षेत्र के आधार पर निर्णय होता था। यह सरकार किसानों को खाद उपलब्ध कराने, खेतों तक पानी पहुंचाने व किसानों कर्ज को माफ करने की दिशा में आगे बढ़ रही है।

इसके अलावा कानून व्यवस्था में सुधार आया है। यूपी की छवि बदली है।एनेक्सी के मीडिया सेंटर में शनिवार को पत्रकार वार्ता में डा. शर्मा ने कहा कि प्रदेश ने सपा-बसपा सरकारों की अव्यवस्था को देखा है। प्रदेश में भ्रष्टाचार,स्थानान्तरण व भाईभतीजावाद का रोजगार था। अब योगी सरकार में चहुंमुखी विकास के लिए बजट का आंवटन किया गया है। युवाओं के रोजगार को प्राथमिकता दी गयी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने तो 85 हजार करोड़ रुपये का भुगतान किसानों को डिजिटल पेंमेंट से किया है।

उन्होंने अखिलेश यादव का नाम लिये बिना कहा कि जो लोग किसानों के कर्ज पर बयान देते हैं, जव वह सत्ता में थे तो उन्होंने किसानों का कर्ज क्यों नहीं माफ किया था। वह चुनावी असफलताओं से खुद को ठगा महसूूस कर रहे हैं। उन्होंने तंज किया कि अपना दल कृष्णा पटेल के एक नेता को शामिल कर ऐसा प्रचारित किया जा रहा है कि कई बड़े दल के लोग उनके दल में आ रहे हैं, लेकिन गोरखपुर व फूलपुर में होने वाले लोकसभा के उपचुनाव में जनता उन्हें सबक सिखाकर रहेगी और भाजपा फिर अपनी दोनों सीटों पर जीत दर्ज करेगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper