काशी में खुले देवालय, विश्वनाथ के दर्शन पाकर खुश हुए श्रद्घालु

वाराणसी: धर्म की नगरी कहे जानी वाली काशी में मंगलवार से देवालय खुल गये हैं। काशी विश्वनाथ मंदिर के द्वार मंगलाआरती के बाद आम भक्तों के लिए खोल दिए गए हैं। ढाई माह बाद श्रद्घालु अपने आराध्य के दर्शन के बाद बेहद खुश हैं। भक्त समाजिक दूरी के साथ ही लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए बाबा विश्वनाथ के दरबार में दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं।

मंदिर ट्रस्ट के जनसंपर्क अधिकारी पीयूष तिवारी ने बताया कि, “आज बाबा विश्वनाथ के कपाट सुबह 6 बजे आम भक्तों के लिए खोल दिये गये हैं। लेकिन बिना मास्क के मंदिर में प्रवेश नहीं मिलेगा। उन्होंने बताया कि श्रद्घालुओं को मंदिर में प्रवेश से पहले दो बार हाथों को सैनिटाइज करना आवश्यक होगा। एक बार में मंदिर परिसर में 5 श्रद्घालु ही उपस्थित होंगे और मंदिर परिसर में किसी भी विग्रह प्रतिमा या घंटी को छूना प्रतिबंधित रहेगा। इसके साथ ही श्रद्घालुओं को प्रवेश से पहले थर्मल स्कैनिंग कराना अनिवार्य है। किसी श्रद्घालु के शरीर का तापमान अधिक होने या सर्दी जुखाम की स्थिति में उसे मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इसके अलावा मंदिर परिसर को 5 बार सेनेटाइज कराया जाएगा।”

वाराणसी का प्रसिद्घ संकटमोचन मंदिर अभी नहीं खुलेगा। जिला प्रशासन की तरफ से जारी 24 प्वाइंट चेक लिस्ट के सभी बिंदुओं को पूर्ण करने के बाद मंदिर के खोलने के तिथि की घोषणा की जाएगी। महंत प्रो़ विश्वम्भर नाथ मिश्र ने कहा, ” मेरी तरफ से 8 जून को ही मंदिर खोलने की पूरी तैयारी कर ली गई थी। चेकलिस्ट जारी होने के बाद उसके अनुसार तैयारी की जा रही है। तैयारी पूरी हो जाने के बाद जिला प्रशासन से राय मशविरा कर मंदिर शीघ्र ही खोल दिया जाएगा। तिथि की घोषणा शीघ्र की जाएगी। कहा कि हम आम श्रद्घालुओं को मंदिर आने के लिए मना नहीं कर रहे हैं लेकिन कोरोना के संक्रमण को ध्यान में रख कर हमें एहतियात भी बरतनी है। श्रद्घालुओं की सुरक्षा सवरेपरि है।”

काशी विश्वनाथ मंदिर में भक्तों की सहूलियत के लिए अनलाइन दर्शन की शुरुआत भी हो गई है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी शुरुआत की है। इस सेवा से भक्त घर बैठे बाबा विश्वनाथ की अनलाइन पूजा जैसे रुद्राभिषेक, महामृत्युंजय जप करा सकते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper