कासगंज मामले पर केंद्र ने जताई नाराजगी, प्रदेश सरकार से मांगी रिपोर्ट

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कासगंज में तिरंगा यात्रा पर हुए विवाद का मामला अभी भी गर्माया है। कासगंज में हुई साम्प्रदायिक हिंसा पर केंद्र ने नाराजगी जाहिर करते हुए प्रदेश सरकार से रिपोर्ट मांगी है। जिसे देखते हुए सीएम योगी आज शाम को होने वाली कैबिनेट मीटिंग के बाद लॉ एंड ऑर्डर पर कासगंज के डीएम और एसपी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग कर सकते हैं। गणतंत्र दिवस पर तिरंगा यात्रा के दौरान हुए टकराव के बाद कासंगज के हालात काफी बिगड़ गए थे। दोनों पक्षों की ओर से हुई गोलीबारी में अभिषेक उर्फ चंदन ने अपनी जान गवां दी। जिसके बाद से वहीं दहशत के साथ ही गम के काले बादल भी छाये हैं।

राज्यपाल ने भी की कड़ी आलोचना

वहीं, इस मामले की राज्यपाल राम नाईक ने भी कड़ी आलोचना करते हुए घटना को प्रदेश के लिए कलंक बताया था। इसके बाद प्रशासन ने सोमवार को कार्रवाई करते हुए एसपी सुनील सिंह को हटा दिया था। उनकी जगह पीयूष श्रीवास्तव को कप्तान बनाया गया है।

सीएम योगी ने दिया 20 लाख का चेक

हिंसा में मारे गए युवक चंदन के परिवार को सीएम योगी की ओर से 20 लाख रुपए मदद की घोषणा की गई थी। चंदन के परिजनों ने पहले तो चेक लेने से इंकार कर दिया था लेकिन अफसरों के मिन्नतों के बाद परिजनों मे चेक तो स्वीकार कर लिया। साथ ही परिजनों ने सीएम योगी से चंदन को शहीद का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं।

केंद्र ने मांगी प्रदेश सरकार से रिपोर्ट

सूत्रो के मुताबिक, कासगंज में हुई इस साम्प्रदायिक हिंसा पर केंद्र ने नाराजगी जाहिर करते हुए प्रदेश सरकार से मामले की रिपोर्ट मांगी है। जिसे देखते हुए सीएम योगी आज शाम 5 कालिदास में होने वाली कैबिनेट मीटिंग के बाद लॉ एंड ऑर्डर पर कासगंज के डीएम और एसपी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग कर सकते हैं।

साथ ही सीएम योगी ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि ”सरकार, राज्य में किसी भी तरह के भ्रष्टाचार या अराजकता को बर्दाश्त नहीं करेगी, अगर जो कोई ऐसी घटना में शामिल होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाई की जाएगी.”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper