कासगंज में हालात अभी भी तनावपूर्ण

लखनऊ। कासगंज में हालात आज भी तनावपूर्ण हैं। इलाके से अभी भी छिटपुट हिंसक घटनाएं होने की सूचना है। शहर में बड़ी तादाद में पुलिस बल तैनात किया गया है। त्वरित कार्वाईं बल (आरएएफ) और पीएसी के जवान स्थिति पर नजर बनाये हुए हैं। अफवाहें फैलाने वालों और उपद्रवियों को लेकर प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। कासगंज की सांप्रदायिक हिंसा के संबंध में संवाददाताओं के सवालों पर केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि अगर मृतक चंदन गुप्ता की जगह कोईं मोहम्मद इस्माईंल होता तो मीडिया में अलग बहस होती।

हमें इस मनोवृत्ति को बदलने की आवश्यकता है।उन्होंने कहा कि कासगंज हिंसा सुनियोजित लगती कासगंज में हालात अभी भी तनावपूर्ण बरेली डीएम के पोस्ट पर उप्र सरकार सख्त बरेली/लखनऊ (वीअ)। कासगंज हिसा को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार पर दबाव लगातार बढ़ता ही जा रहा है, पेसबुक पर इस हिसा को लेकर अब इस राज्य के एक जिलाधिकारी के पोस्ट ने विवाद बढ़ा दिया है।बरेली के जिलाधिकारी वैप्टन राघवेंद्र विाम सिह ने कासगंज घटना पर पेसबुक पर एक पोस्ट किया। रविवार की शाम 7:55 बजे किए गए 39 शब्दों के इस छोटे से पोस्ट के बाद विवाद खड़ा हो गया। अब यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्यं ने कहा है कि डीएम के खिलाफ कार्रवाईं की जाएगी।

इस मुद्दे पर बीजेपी नेता विनय कटियार ने कहा है कि कासगंज में अगर तुरंत कार्रवाईं की होती तो दंगा नहीं भड़कता ये प्रशासनिक विफलता की वजह से हिसा भड़की। बरेली के डीएम की मानसिक स्थिति बिगड़ गईं है इलाज की जरूरत है डीएम के खिलाफ करवाईं होनी चाहिए। कटियार बोले कि ऐसी मानसिकता वाले को पाकिस्तान जाना चाहिए, हिदुस्तान में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे नहीं लगेंगे तो क्या हिदुस्तान मुर्दाबाद के नारे लगेंगे। ऐसे में अफसर पर एक्शन लिया जाना चाहिए।बरेली के जिलाधिकारी वैप्टन राघवेंद्र ने 28 जनवरी को अपने पोस्ट में लिखा था, ‘अजब रिवाज बन गया है। मुस्लिम मुहल्लों में जबर्दस्ती जुलूस ले जाओ और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाओ। क्यों भाईं वे पाकिस्तानी हैं क्या? यही यहां बरेली में खैलम में हुआ था। फिर पथराव हुआ, मुकदमे लिखे गए।’

है। इस बीच कुछ असामाजिक तत्वों ने आज अमनपुर स्थित ईंदगाह की दीवार के एक हिस्से को क्षतिग्रस्त कर दिया।जिलाधिकारी आर पी सिंह ने यहां संवाददाताओं को बताया कि पुलिस प्रशासन ने स्थिति को तत्काल नियंत्रित कर लिया।उन्होंने बताया कि अमनपुर में कुछ असामाजिक तत्वों ने ईंदगाह की दीवार पर एक गुंबदनुमा ढांचे को क्षतिग्रस्त कर तनाव फैलाने का प्रयास किया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper