कासगंज हिंसा पर जिम्मेदारी से भाग नहीं सकती योगी सरकार: सपा

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) ने कहा है कि कासगंज की घटना से भाजपा सरकार अपनी जिम्मेदारी से भाग नहीं सकती। पार्टी ने कहा कि अब तो राज्यपाल ने भी कह दिया है कि कासगंज की घटना कलंक है, जो सच्चाई के बेहद करीब है।

सपा ने कहा कि यह हकीकत है कि प्रदेश के हालात सरकार के नियंत्रण से बाहर हो गए हैं। प्रदेश में कानून व्यवस्था में सुधार की जरूरत है। पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार के धार्मिक उन्माद और जातीय वैमनस्य को प्रोत्साहन देने की साजिश ही कासगंज की घटना है। यह लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए काला धब्बा है।

उन्होंने कहा कि भाजपा की बंटवारे वाले राजनीति का नतीजा है कि लोग बेवजह मारे जा रहे हैं। जनजीवन अस्तव्यस्त है, जान-माल की कोई सुरक्षा नहीं है। प्रेस की आजादी पर भी हमला किया जा रहा है। प्रेस के प्रतिनिधियों को धमकाया जा रहा है।

सपा के मुख्य प्रवक्ता चौधरी ने कहा कि पार्टी की मांग की है कि लोगों पर जाति-धर्म के आधार पर एवं रागद्वेष से प्रेरित कार्रवाई न हो। जनजीवन सामान्य करने का तत्काल प्रयास किया जाए और दोषियों पर सख्त कार्रवाई के साथ निर्दोषों को विश्वास में लेकर मेल-मिलाप बढ़ाते हुए सामाजिक सौहार्द कायम किया जाए। साथ ही पीड़ित परिवारों को सरकार द्वारा मदद की जाए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper