किसान आंदोलन पर सनी देओल ने तोड़ी, बोले- सरकार ने हमेशा किसानों का भला सोचा, ट्विटर पर शुरू हो गई ट्रोलिंग

किसान आंदोलन को लेकर अब तक चुप्पी साधने वाले अभिनेता और बीजेपी सांसद सनी देओल ने अपनी राय रखी है। सनी देओल ने ट्विटर पर एक संदेश जारी करते हुए लिखा है कि यह सरकार और किसानों के बीच का मामला है। उन्होंने लिखा, ‘दोनों आपस में बातचीत करके इसका हल निकालेंगे। मैं जानता हूं कि कई लोग इसका फायदा उठाना चाहते हैं और वो लोग अड़चन डाल रहे हैं। वह किसानों के बारे में बिलकुल नहीं सोच रहे हैं। उनका अपना खुद का कोई स्वार्थ हो सकता है।’

यही नहीं लंबे समय तक अपने सहयोगी रहे दीप सिंद्धू के लिए सनी देओल ने लिखा, ‘वह जो कुछ कर रहा है और कह रहा है, वह अपनी इच्छा से कर रहा है। उसकी किसी भी गतिविधि से मेरा कोई संबंध नहीं हैं। मैं अपनी पार्टी और किसानों के साथ हूं।’ सनी देओल ने लिखा है कि सरकार ने हमेशा से किसानों के हित में ही सोचा है और उम्मीद जताई कि बातचीत के जरिए सही नतीजे पर पहुंचा जा सकेगा।

हालांकि अपनी इस पोस्ट को लेकर सनी देओल को ट्विटर पर ट्रोल भी किया जा रहा है। एक यूजर ने लिखा कि सबसे पहले अपने आईटी सेल वालों से कहो कि वे किसानों को खालिस्तानी बोलना बंद करें। उन्हीं खालिस्तानियों ने आपको जिताया है और यदि ऐसा है तो फिर आप भी खालिस्तानी हुए। एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘किसान अपनी लडाई खुद लड़ लेगा सनी देओल। पाजी, लगता है आपकी हड्डियों मे भी पानी भर गया है।’

बता दें कि सनी देओल कोरोना पॉजिटिव हैं और फिलहाल आइसोलेशन में हैं। अपने कोविड पॉजिटिव होने की जानकारी देते हुए सनी देओल ने ट्वीट किया था, ‘मैंने कोरोना टेस्ट करवाया और रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैं एकांतवास में हूं और मेरी तबीयत ठीक है। मेरा अनुरोध है कि आप में से जो भी लोग गत कुछ दिनों में मेरे संपर्क में आयें हैं, कृपया स्वयं को आइसोलेट कर अपनी जाँच करवाएं।’ सनी देओल पंजाब की गुरदासपुर सीट से बीजेपी के सांसद हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper