कुंभ तैयारियों की समीक्षा करने योगी इलाहाबाद पहुंचे

लखनऊ ब्यूरो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहली बार 30 घंटे प्रयाग में बितायेंगे। 13 और 14 अक्टूबर को अपने दौरे के दौरान वह पांच मंत्रियों, मुख्य सचिव व कई प्रमुख सचिवों के साथ राज्यपाल राम नाईक की अध्यक्षता में कुंभ की तैयारियों की समीक्षा करेंगे। इसके बाद ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयाग आने का कार्यक्रम तय होगा, जिसके तहत प्रधानमंत्री नवंबर के प्रथम सप्ताह में संगम नगरी आ सकते हैं।

उत्तर प्रदेश राज्यपाल की अध्यक्षता में कुंभ मेला में कराए जाने वाले कार्याें की प्रगति की समीक्षा एवं स्थलीय निरीक्षण के सम्बन्ध में मार्गदर्शक मंडल की बैठक में सभी सम्मिलित रहेंगे। उपराष्ट्रपति के जाने के बाद मुख्यमंत्री सर्किट हाउस पहुंचेंगे। वहां वह दोपहर का लंच लेंगे। कुछ देर विश्राम के बाद वह सर्किट हाउस में ही कुंभ के कार्याे की प्रगति की समीक्षा करेंगे।

इसमें प्रदेश सरकार के प्रवक्ता व स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना, पर्यटन तथा महिला एवं बाल कल्याण मंत्री डॉ रीता बहुगुणा जोशी, उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्त नंदी, कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह तथा मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय व छह विभागों के प्रमुख सचिव सहित मंडल और जिले के आलाधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

बैठक के बाद मुख्यमंत्री अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि समेत अन्य पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। इसके उपरांत हाईकोर्ट फ्लाईओवर, नवाब यूसुफ मार्ग, रामबाग आरओबी, बालसन चौराहा, भारद्वाज आश्रम व पार्क, बक्शी बांध के निर्माण कार्याे का स्थलीय निरीक्षण करेंगे।

14 अक्टूबर को वह सुबह पार्टी के विधायकों-सांसदों के साथ चाय व नाश्ता लेंगे। इसके बाद एसटीपी, यमुना के घाटों के साथ कई सड़कों व एमएनआईटी आरओबी का निरीक्षण करेंगे। दोपहर में एक बजे के बाद वह विशेष वायुयान से लखनऊ लौट जाएंगे। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि ने बताया कि मुख्यमंत्री शनिवार शाम गंगा आरती व हनुमान दर्शन भी करेंगे, इसके बाद बैठक करेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper