कुढ़नी में शराबबंदी की वजह से हारा महागठबंधन – कांग्रेस का आरोप

पटना: बिहार की कुढ़नी विधानसभा सीट पर महागठबंधन की शिकस्त का ठीकरा कांग्रेस ने राज्य में लागू शराबबंदी पर फोड़ा है। बिहार विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा कि भाजपा ने ताड़ी को शराबबंदी से बाहर करने के लिए पासी समाज के लोगों को लुभाया, इस कारण कुढ़नी में जेडीयू उम्मीदवार मनोज कुशवाहा को हार का मुंह देखना पड़ा। उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में शराबबंदी के बाद भी शराब की जमकर तस्करी हो रही है, इसका कारण भ्रष्ट पदाधिकारी हैं। नीतीश कुमार को उनपर कार्रवाई करना चाहिए।

कांग्रेस MLA अजीत शर्मा ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमें लग रहा था कि भारी बहुमत से जीतेंगे। लेकिन, सदन में जब शराबबंदी हुई थी, तब सभी दलों ने एक साथ हरी झंडी दी थी। नीतीश कुमार ने जब भाजपा का साथ छोड़ दिया, तो उस पार्टी ने शराबबंदी पर लोगों को भड़काना आरंभ कर दिया। अजीत शर्मा ने कहा कि भाजपा ने ताड़ी को शराबबंदी से बाहर करने की मांग के लिए पासी समाज को बरगलाने का कार्य किया। इससे कुढ़नी में महागठबंधन को नुकसान पहुंचा।

अजीत शर्मा ने यह भी कहा कि बिहार में शराबबंदी के बाद भी हर जगह धड़ल्ले शराब मिल रही है। इसमें पदाधिकारियों का दोष है। वे तस्करों से मिल हुए हैं। उनपर कार्ररवाई की आवश्यकता है। यदि वे नहीं संभलते हैं, तो सरकार मिलकर इसपर फैसला लेगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper