कृषि विभाग द्वारा अभियान चलाकर लाभार्थियों के बीच व्यापक प्रचार-प्रसार कर कृषकों को ई-के0वाई0सी0 कराने हेतु प्रेरित किया गया

बरेली, 11 जनवरी। उप कृषि निदेशक डॉ0 दीदार सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत 11वीं किस्त के लिये भारत सरकार द्वारा लाभार्थियों के लिये ई-के0वाई0सी0 कराया जाना अनिवार्य किया गया था। लखनऊ ट्रिब्यून से वार्ता में उन्होंने बताया कि कृषि विभाग द्वारा ई-के0वाई0सी0 के सम्बन्ध में अभियान चलाकर लाभार्थियों के बीच व्यापक प्रचार-प्रसार कर कृषकों को ई-के0वाई0सी0 कराने हेतु प्रेरित किया गया। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग जनपद बरेली द्वारा अपने क्षेत्रीय कर्मचारियों के माध्यम से अभियान चलाकर व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए कृषकों को प्रेरित कर लगभग 71 प्रतिशत कृषकों द्वारा ई-के0वाई0सी0 का कार्य पूर्ण करवाया गया। बाद में व्यापक कृषक हित में भारत सरकार द्वारा 11वीं किस्त के लिये ई-के0वाई0सी0 की छूट प्रदान कर दी गई थी। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा 12वीं किस्त के भुगतान में ई-के0वाई0सी0 की शर्त को शिथिल रखते हुये भूलेख अंकन कराने वाले पात्र कृषकों को 12वीं किस्त का भुगतान दिनांक 17.10.2022 को पी0एम0 किसान सम्मान सम्मेलन के दौरान पात्र कृषकों के बैंक खातों में किया गया है।
वर्तमान में कृषि एवं कृषक कल्याण विभाग भारत सरकार के पत्र संख्या 7-3/2020-FWS/e-87409 दिनांक 07 नवम्बर, 2022 एवं कृषि निदेशालय, उ0प्र0 (पी0एम0 किसान प्रकोष्ठ) कृषि भवन, लखनऊ के पत्र संख्या 1246 दिनांक 16.11.2022 द्वारा अवगत कराया गया है कि पी0एम0 किसान योजनान्तर्गत माह दिसम्बर-2022 से माह मार्च-2023 की अवधि हेतु देय 13वीं किस्त के लिये किसानों के खातों का आधार से लिंक कराने हेतु ई-के0वाई0सी0 अनिवार्य कर दिया गया है। जनपद में भूलेख अंकन कराने वाले 409876 कृषकों में से 90700 कृषक ऐसे पाये गये जिनके द्वारा ई-के0वाई0सी0 नहीं करायी गयी है। ऐसे कृषकों के लिये कृषि विभाग के क्षेत्रीय कर्मचारियों द्वारा डोर-टू-डोर सम्पर्क अभियान चलाकर अवशेष कृषकों को ई-के0वाई0सी0 करने हेतु प्रेरित किया जा रहा है, फलस्वरूप इन अवशेष 90700 कृषकों में से अभी तक लगभग 10100 कृषकों द्वारा ई-के0 वाई0सी0 करा लिया गया है।
उप कृषि निदेशक ने कहा कि भूलेख अंकन पूर्ण ऐसे लाभार्थी जिनके द्वारा ई-के0वाई0सी0 नहीं कराया गया है, उनको भारत सरकार द्वारा 13वीं किस्त का भुगतान नहीं किया जायेगा, जिसके लिये सम्बन्धित स्वयं उत्तरदायी होंगे। उन्होंने समस्त पात्र कृषक बंधुओं से अपील किया है कि जिनके द्वारा अभी तक ई-के0वाई0 सी0 नहीं कराया गया है वो सभी अपने नजदीकी जन सेवा केन्द्र पर जाकर ई-के0 वाई0सी0 अवश्य करा लें, जिससे उन्हें निर्बाध रूप से पी0एम0 किसान सम्मान निधि योजना का लाभ प्राप्त हो सके। साथ ही ऐसे लाभार्थी कृषक जिनकी आधार संख्या से उनका बैंक खाता आधार सीड/एन0पी0सी0 आई0 से लिंक नहीं है अथवा बैंक खाता ‘‘डी0बी0टी0 इनेबल्ड’’ नहीं है, वह भी अपनी आधार संख्या से बैंक खाते को आवश्यक रूप से आधार सीड/एन0पी0सी0आई0 से लिंक एवं ‘‘डी0बी0टी0 इनेबल्ड’’ करा लें जिससे उन्हें पी0एम0 किसान सम्मान निधि योजना की किस्ते प्राप्त होने में बाधा न उत्पन्न हो। उन्होंने कहा कि कृषक बन्धु ई-के0वाई0सी0 एवं बैंक खाता आधार सीड/एन0पी0सी0आई0 से लिंक के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की सहायता/जानकारी प्राप्त करने हेतु अपने न्याय पंचायत/विकासखंड/उपसंभाग में तैनात कृषि विभाग के कर्मचारी से अथवा पी0एम0 किसान सम्मान निधि योजना हेतु उप कृषि निदेशक कार्यालय में स्थापित पी0एम0 किसान हेल्पडेस्क (मोबाइल नम्बर 7310504980 एवं 7983708328 ) पर सम्पर्क कर सहायता/जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
बरेली से ए सी सक्सेना की रिपोर्ट

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper