केंद्र सरकार ने दी राहत, किसी भी केंद्रीय कर्मचारी की सैलरी नहीं कटेगी

नई दिल्ली: सरकार ने आज स्पष्ट किया कि केन्द्रीय कर्मचारियों के वर्तमान वेतन में किसी तरह की कटौती का कोई प्रस्ताव नहीं है। मीडिया में इस तरह की खबर आने के बाद वित्त मंत्रालय ने यहां स्पष्ट किया कि इस तरह की खबर पूरी तरह से गलत है और इसका कोई आधारहीन है।

मंत्रालय ने कहा कि किसी भी श्रेणी के केन्द्रीय कर्मचारियों के वेतन में कटौती का कोई प्रस्ताव नहीं है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अर्थव्यवस्था में आयी मंदी के कारण केन्द्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते पर रोक लगा दी गयी है। इसमें अब एक जुलाई 2021 से बढ़ोतरी होगी और इस वर्ष जनवरी में मिलने वाली किश्त भी नहीं दी गई है।

कुछ दिन पहले केंद्रीय कर्मचारियों की पेंशन में कटाैती की खबरें भी थीं लेकिन तब वित्त मंत्रालय ने आधिकारिक हैंडल से एक ट्वीट में कहा, “यह बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार के पेंशन में 20% कटौती की योजना बनाई जा रही है। यह खबर FALSE है।

पेंशन संवितरण में कोई कटौती नहीं होगी। यह स्पष्ट है कि वेतन और पेंशन सरकारी नकद प्रबंधन निर्देशों से प्रभावित नहीं होंगे। कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय ने भी एक बयान में कहा कि पेंशन में कमी का कोई प्रस्ताव नहीं है और सरकार ने इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper