केरल सोना तस्करी मामले में 2 और गिरफ्तार, एनआईए कोर्ट ने 4 दिनों के लिए हिरासत में भेजा

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने केरल सोना तस्करी मामले में दो और व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है। इससे इस मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों की कुल संख्या बढ़कर 12 हो गई है। यह जानकारी एक अधिकारी ने मंगलवार को दी। एनआईए के एक प्रवक्ता ने बताया कि केरल के मलप्पुरम निवासी 38 वर्षीय शराफुद्दीन और राज्य के पलक्कड़ जिले के 31 वर्षीय शफीक को सोमवार को गिरफ्तार किया गया। दोनों को षड़यंत्र और तिरुवनंतपुरम स्थित यूएई के वाणिज्य दूतावास को संबोधित राजनयिक बैग के जरिए सोने की तस्करी करने में उनकी भूमिका सामने आने के बाद गिरफ्तार किया गया।

जांच एजेंसी के एक अधिकारी ने बताया कि रमीज केटी से हिरासत में पूछताछ के दौरान, यह पता चला कि उसकी तिरुवनंतपुरम में संदीप नायर से तस्करी का सोना एकत्रित करने और उसे अन्य सह-षड्यंत्रकारियों के बीच वितरित करने में सह-साजिशकर्ताओं शराफुद्दीन और शफीक द्वारा सहायता की गई। रमीज और नायर मामले के आरोपी हैं जिन्हें पूर्व में गिरफ्तार किया गया था।

अधिकारी ने बताया कि शराफुद्दीन और शफीक को मंगलवार को एर्णाकुलम में एक विशेष एनआईए अदालत के समक्ष पेश किया गया जहां से उन्हें पूछताछ के वास्ते चार दिन के लिए एजेंसी की हिरासत में भेज दिया गया। अधिकारी ने कहा कि एनआईए ने मामले के सिलसिले में अब तक 12 लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले में आगे की जांच चल रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper