कैप्टन से तनाव के बीच सिद्धू ने राहुल और प्रियंका गांधी से की मुलाकात, खत भी सौंपा

नई दिल्ली: विभाग बदलने से नाराज कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने आज दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी व प्रियंका गांधी से मुलाकात की। इसकी पुष्टि सिद्धू ने ट्विट के जरिए की है। आपकों बता दें कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कैबिनेट की बैठक के बाद अपने मंत्रियों के विभागों में फेरबदल किया गया था।

जिसमें सिद्धू से स्थानीय निकाय और पर्यटन व सांस्कृतिक मामले विभाग वापस लेकर उन्हें बिजली व अक्षय ऊर्जा विभाग की नई जिम्मेदारी दी गई थी। बताया जा रहा है कि, नवजोत सिद्धू नए विभाग से खुश नहीं हैं और पुराना विभाग ही लेना चाहते हैं। इसलिए उन्होंने अभी तक नए विभाग की जिम्मेदारी भी नहीं संभाली है।

मंत्रालय बदलने को लेकर नाराज सिद्धू आज राहुल गांधी के दरवाजे पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को एक खत भी सौंपा है। सिद्धू ने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और अहमद पटेल के साथ मुलाकात की तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को खत सौंपा है और उन्हें हालात से अवगत कराया है।

केजीएमयू ट्रामा सेंटर के नहीं सुधर रहे हालात, सुरक्षा गार्डों ने तीमारदारों को जमकर पीटा

हालांकि, सिद्धू ने कहा कि उन्होंने हमेशा से अच्छा प्रदर्शन किया है और दावा किया कि पंजाब में पार्टी की जीत में शहरी इलाकों ने अहम भूमिका निभाई। सिद्धू ने कहा था, ‘मुझे हल्के में नहीं लिया जा सकता। मैंने अपने जीवन में 40 साल तक अच्छा प्रदर्शन करके दिखाया है, चाहे वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट हो या ज्योफ्री बॉयकाट के साथ विश्वस्तरीय कमेंट्री हो, टीवी कार्यक्रम हो या 1300 प्रेरक वार्ताओं का मामला हो।’

पंजाब के शहरी इलाकों में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के ‘खराब प्रदर्शन’ को लेकर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की नाराजगी का सामना कर रहे सिद्धू चुनाव के बाद बृहस्पतिवार को हुयी पहली कैबिनेट बैठक में शामिल नहीं हुए। सिद्धू ने कहा कि वह अपने नाम, विश्वसनीयता और प्रदर्शन का ‘पूरी तरह से’ बचाव करेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper