कैराना और नूरपुर में हार से विधायकों के बगावती सुर निकले

लखनऊ ब्यूरो। कैराना लोक सभा और नूरपुर विधान सभा उप चुनाव में भाजपा की हार का प्रभाव नजऱ आने लगा है। गोपामऊ हरदोई से भाजपा विधायक श्यामप्रकाश और बलिया से विधायक सुरेन्द्र सिंह ने निशाना साधा है। निशाना साधने वाले दोनों ही विधायक हाल के दिनों में सुर्खियों में रहे हैं।

श्यामप्रकाश एसपी से विवाद के बाद सुखिऱ्यों आये तो सुरेन्द्र सिंह ने रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के बचाव में बयान देकर सुर्खियां बटोरीं थीं। हार के बाद मौक़ा देख भाजपा के सहयोगी दल के कोटे से कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने भी निशाना साधा है।

कैराना लोक सभा और नूरपुर विधान सभा उप चुनावों में भाजपा की हार ने पार्टी के असंतुष्ट विधायकों को मुखर होने का मौक़ा दे दिया है। गोरखपुर और फूलपुर लोक सभा उप चुनाव में मिली हार के बाद भाजपा ने इन दोनों सीटों को नाक का सवाल बना लिया था। सीएम योगी आदित्यनाथ, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र पाण्डेय के रैलियाँ करने के अलावा कऱीब एक दर्जन मन्त्रियों ने इन चुनावों में अपनी ताक़त झोंक रखी थी।

अब हार के बाद पार्टी के अन्दर से बग़ावत शुरू हो गई है। बलिया जि़ले की बैरिया सीट से भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह ने हार के बहाने अफसरों पर निशाना साधा है। सुरेन्द्र सिंह ने कहा है, कि यह हर अत्यधिक भ्रष्टाचार वाली नीतियों की वजह से हुई है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों और कर्मचारियों ने इतना भ्रष्टाचार फैला रखा है, कि जनता त्रस्त हो गई है। सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की ज़रुरत है।

बगावती तेवर हरदोई जि़ले की गोपामऊ सीट से विधायक श्याम प्रकाश ने दिखाए हैं। सोशल मीडिया के ज़रिये भड़ास निकलते हुए श्यामप्रकाश ने कहा कि पहले गोरखपुर, फूलपुर, और अब कैराना, नूरपुर में हार का हमें दु:ख जताते हुए उन्होंने ने लिखा है, कि मुख्यमंत्री असहाय हो गए हैं, जनता और विधायक त्रस्त हैं और अधिकारी व पार्टी जिला अध्यक्ष भी भ्रष्ट हैं।

कैराना लोकसभा और नूरपुर विधान सभा उपचुनाव में भाजपा को हार से सबक़ लेने की नसीहत देते हुए सरकार में सहयोगी दल के कोटे से कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने भी हमला बोला है। ओम प्रकाश राजभर ने कहा है, कि सभी दल भाजपा के खिलाफ लामबंद हो गए हैं । ऐसे में अगर भाजपा ने भी अपनी रणनीति नहीं सुधारी तो देर हो जाएगी, राजभर ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द आरक्षण लागू करके अतिपिछड़ों को उनका हक दे तो 2019 में उसे बड़ी जीत मिल सकती है,

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper