कॉलेज के महिला शौचालय में रखा था मोबाइल, देखा तो उड़ गए होश

मुरादाबाद: यूपी से एक शर्मनाक घटना सामने आई है यहाँ मुरादाबाद में स्थित के जीके पीजी कॉलेज में चपरासी की घिनौनी हरकत से पर्दा उठा तो हर कोई हैरान रह गया। कॉलेज की महिला एसोसिएट प्रोफेसर ने चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजेश कुमार पर इल्जाम लगाया कि उसने महिला शौचालय में वीडियो ऑन करके स्मार्टफोन छुपा दिया था। इसका पता लगने पर इसकी खबर तुरंत पुलिस को दी तो हर किसी के होश उड़ गए।

वही चपरासी के मोबाइल में और कई वीडियो क्लिप भी मिले हैं, तत्पश्चात, पुलिस ने मझोला थाना क्षेत्र में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी (चपरासी) राजेश कुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया है। महिला एसोसिएट प्रोफेसर ने शिकायत में लिखा, ’10 नवंबर को शाम 3:45 पर विधि विभाग के शौचालय में वह गई थी, जहां पर उनको एक स्मार्टफोन कैमरा चालू स्थिति में मिला, जिसमें उनकी वीडियो बन रही थी, वह मोबाइल विधि विभाग में कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजेश कुमार का था, जिसका मोबाइल उनकी हिरासत में है।’

महिला एसोसिएट प्रोफेसर के पास ही राजेश कुमार का मोबाइल है, आवश्यकता पड़ने पर वह मोबाइल उपलब्ध करा देंगी। इस मोबाइल में कई और वीडियो क्लिप प्राप्त हुए हैं। मामला हाई प्रोफाइल होने के कारण पुलिस भी एक्टिव हो गई तथा तुरंत ही तहकीकात आरम्भ कर दी गई है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है तथा अपराधी की तलाश की जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper