कोरोना का असर : मांग में नरमी से दुनियाभर में घटे खाद्य पदार्थों के दाम

रोम: कोरोनावायरस के कहर का असर दुनियाभर में खाद्य पदार्थों की मांग पर भी पड़ा है। संयुक्त राष्ट्र की संस्था खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) की रिपोर्ट बताती है कि कोरोनावायरस के प्रकोप से फैली वैश्विक महामारी के कारण खाद्य पदार्थों की मांग दुनियाभर में घट गई है जिसके चलते मार्च में खाद्य पदार्थों के कीमत सूचकांकों में गिरावट दर्ज की गई।

एफएओ के अनुसार, खाद्य पदार्थों की सकल कीमत सूचकांक में मार्च में 4.3 फीसदी की गिरावट आई जो कि लगातार दूसरे महीने की गिरावट के साथ बीते दो साल में सबसे बड़ी मासिक गिरावट है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की एक रिपोर्ट में एफएओ द्वारा जारी रिपोर्ट का जिक्र करते हुए कहा गया है कि मार्च में खाद्य पदार्थों के दाम में कमी के बावजूद पिछले साल के इसी महीने की तुलना में खाद्य कीमत सूचकांक 2.7 फीसदी उपर है।

रिपोर्ट के अनुसार, सब्जी और चीनी के दाम में सबसे ज्यादा गिरावट आई। सब्जियों के दाम में जहां मार्च में बीते महीने फरवरी के मुकाबले 12 फीसदी की गिरावट आई वहीं, चीनी के दाम में 18.1 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।

इसकी वजह, रेस्तराओं और शराबखानाओं की बंदी बताई गई। अनाजों के कीमत सूचकांक में 1.9 फीसदी की गिरार्वट आई है जबकि डेयरी उत्पादों की कीमतों में तीन फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper