कोरोना को लेकर सतर्कता जरूरी, ई-संजीवनी एप का प्रचार-प्रसार करें अधिकारी : सीएम योगी

लखनऊ: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोरोना संक्रमण की दर में उल्लेखनीय कमी के बावजूद इसका खतरा अभी समाप्त नहीं हुआ है और इसलिए प्रत्येक स्तर पर पूरी सतर्कता बरतना आवश्यक है। मुख्यमंत्री रविवार को यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने में टेस्टिंग की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने टेस्टिंग कार्य पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश देते हुए फोकस टेस्टिंग किए जाने पर बल दिया।

उन्होंने कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग तथा सर्विलांस कार्य को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसके संकमण में उल्लेखनीय कमी दर्ज की गई लेकिन इसके बावजूद इसका खतरा अभी समाप्त नहीं हुआ है। लोगों को इसके लिए प्रत्येक स्तर पर पूरी सतर्कता बरतना जरुरी है। उन्होंने कहा कि लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव के सम्बन्ध में निरन्तर जागरूक करना होगा। सीएम योगी ने कोरोना वैक्सीनेशन कार्य में देश में यूपी का प्रथम स्थान होने पर संतोष व्यक्त करते हुए कोविड टीकाकरण की कार्यवाही को पूरी गति से संचालित करने के निर्देश दिए।

बता दें कि ज्ञातव्य है कि यूपी 20 लाख से अधिक कोविड वैक्सीन की डोज़ लगाने वाला देश का प्रथम राज्य बन गया है। सीएम योगी ने सभी जिलाधिकारियों तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने जिले में वैक्सीनेट किए गए लोगों का डाटा नियमित रूप से प्रतिदिन शाम पांच बजे तक पोर्टल पर दर्ज कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने अधिकारियों को कोविड वैक्सीनेशन कार्य की नियमित मॉनिटरिंग करने के निर्देश देते हुए कहा कि लक्षित आयु वर्ग के अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर स्थापित इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर की व्यवस्थाओं का लाभ कोविड टीकाकरण कार्य के लिए लिया जाए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper