कोरोना पर पीएम मोदी की 3 बड़ी बातें, सभी को जान लेनी चाहिए

मुंबई: देश में फैल रहे कोरोना महामारी के बीच एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता को संबोधित किया। पीएम मोदी ने शुक्रवार को किसान सम्मान निधि स्कीम की आठवीं किस्त जारी की। उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश की जनता से बातचीत की। उन्होंने गांव में फैल रहे कोरोना संक्रमण को लेकर चिंता व्यक्त की। तो वहीं उससे कैसे जंग जितनी है उसका मूल मंत्र दिया।

पीएम मोदी ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किसान सम्मान निधि स्कीम की आठवीं किस्त जारी। इस दौरान उन्होंने कोरोना को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि आज हम एक अदृश्य शत्रु का सामना कर रहे हैं। युद्ध स्तर पर लड़ाई जारी है। अब ग्रामीण इलाके में कोरोना तेजी से फैल रहा है। ऐसे में हम सभी को सतर्क रहना होगा और ग्रामीणों को मास्क पहने समेत बचाव के दूसरे उपाय अपनाने होंगे।

अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि 100 साल बाद ऐसी भीषण महामारी दुनिया में फैली है। दुनिया की परीक्षा ले रही है। हमारे सामने अदृश्य दुश्मन है। जो धीरे-धीरे हमारे आसपास के लोगों को छीन रहा है। हम अपने बहुत से करीबियों को खो चुके हैं। बीते कुछ समय में जो कष्ट देशवासियों ने सहा है। मैं भी उतना ही महसूस कर रहा हूं।

कोरोना पर पीएम मोदी की 3 बड़ी बातें

1. सबसे पहले पीएम मोदी ने कहा कि बीते कुछ समय से जो कष्ट देश के लोग कह रहे हैं वह उतना ही मैं भी महसूस कर रहा हूं

2. पीएम मोदी ने कहा कि देश में महामारी के दौरान जो लोग कालाबाजारी कर रहे हैं। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

3. तीसरी बड़ी बात पीएम मोदी ने कहा कि भारत हिम्मत हारने वाला देश नहीं है, भारत और कोई भारतवासी हिम्मत नहीं हारेगा। हम लड़ेंगे और जीतेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper