कोरोना: ये दवा बनी चीन के लिए वरदान, चार दिन में ठीक कर लिए हजारों मरीज

नई दिल्ली: जहां एक ओर कोरोना वायरस दुनिया भर में कहर बरपा रहा है वहीं इस बीच चीन से अच्छी खबर सामने आई है। चीन ने दावा किया है कि उन्होंने एक ऐसी दवा खोज निकाली है जिससे कोरोना का मरीज केवल चार दिनों में ठीक हो सकता है। उनका दावा है कि अब तक इस दवा से हजारों मरीजों को ठीक किया जा चुका है जो अपने घर लौट चुके है।

चीन के साइंट व टेक्नोलॉजी मंत्री झांग शिनमिन ने पुष्टि की है कि जापानी दवा ‘फाविपिराविर’ नाम की दवा चीनी कोरोना वायरस मरीजों पर काफी असरदार साबित हुई है। चीनी अस्पतालों में आने वाले कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज को यही दवा दी जा रही है। चीनी मंत्री का कहना है कि इस दवा से कोई भी मरीज मात्र चार दिनों के भीतर ठीक होकर घर वापस जा रहा है। उन्होने आगे ये भी बताया कि इससे पहले किसी मरीज को ठीक करने में 11 दिन या उससे अधिक का समय लग रहा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चीन से मिले मरीजों के एक्सरे रिपोर्ट से भी ये साबित हुआ है। जिन मरीजों को कोरोना वायरस इलाज के लिए जापानी दवा फेविपिराविर दिया गया उनके फेफड़े दोबारा से ठीक हो गए। दवा 91 प्रतिशत तक सटीक काम कर रही है। इसके उलट जिन मरीजों का इलाज अन्य दवाओं से किया गया उनमें मात्र 62 प्रतिशत के ही फेफड़े ठीक हो पाए। चीन में पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस (कोविड 19) से तीन लोगों की मौत हुई है और संक्रमण के 39 नये मामले दर्ज किये गये है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने शुक्रवार को बताया कि चीन में बाहर से आने वाले मामलों में बीजिंग में छह, गुआंग्डोंग प्रांत में 14, शंघाई में आठ, फ़ुज़ियान में तीन, हेइलोंगजियांग , लियाओनिंग, झेजियांग , शेडोंग , सिचुआन, गांसु, तियानजिन शहर और स्वायत्त क्षेत्र गुआंग्शी जुआंग में एक-एक मामले दर्ज किये गये हैं। बाहर से आने वाले मामलों की संख्या बढ़कर 228 तक पहुंच गयी है।

आयोग ने बयान में कहा कि 31 प्रांतों में कोरोनावायरस के 80967 मामलों की पुष्टि होने की जानकारी मिली है। इस समय 6569 लोग इस संक्रमण से पीड़ित हैं जिनमें से 2136 लोगों की हालत गंभीर हैं। इस बीमारी से 3248 लोगों की मौत हो चुकी है और ठीक होने के बाद 71150 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गयी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper