कोरोना वैक्सीन लेते ही शख्स बना मैग्नेट मैन

नई दिल्ली: कोरोना वायरस की वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स की खबरों के बीच महाराष्ट्र के नासिक में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। ऐसा दावा किया जा रहा है कि महाराष्ट्र के नासिक शहर में कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद एक सख्स के शरीर से मेटल और स्टील के सामान चिपक जा रहे हैं। यानी उनका शरीर किसी चुंबक की तरह काम कर रहा है।

शहर के शिवाजी चौक इलाके में रहने वाले 71 वर्षीय अरविंद जगन्नाथ सोनार ने 2 जून को कोवीशील्ड की दोनों डोज पूरी की थी। उन्होंने दावा किया कि इसके बाद से ही उनके शरीर में यह मैग्नेटिक पावर आई है। पहले परिवार को ऐसा लगा कि शायद पसीने की वजह से उनकी बॉडी में यह सब सामान चिपक रहा है, लेकिन कई बार ऐसा होने पर उन्हें संदेह हुआ। मामला सामने आने के बाद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने जांच का आदेश दे दिया है। उन्होंने गुरुवार को कहा, ‘इस मामले में क्या सच्चाई है, उसकी जानकारी सभी को होनी चाहिए।

इसके पीछे कोई मेडिकल कारण है भी या कुछ और, यह सच जल्द सामने आना चाहिए। इसलिए हमने इस मामले की जांच का आदेश दिया है।’ इधर सोनार के बेटे का दावा है कि उन्होंने यूट्यूब पर एक वीडियो में देखा है कि दिल्ली के एक अन्य व्यक्ति के साथ भी ऐसा ही हो रहा है। वह भी कोरोना वैक्सीन का दूसरी डोज के बाद किसी मैग्नेट मैन सा हो गया है। हालांकि मामले में कितनी सच्चाई है यह अभी नहीं कहा जा सकता। फिलहाल जांच जारी है। वहीं परिवार ने इस अजीब अनुभव को साबित करने के लिए एक वीडियो भी बनाया और जिला प्रशासन को सूचना दी है।

सामने आए वीडियो में साफ दिखाई पड़ता है कि बुजुर्ग के शरीर से चम्मच, कलछी, छोटी प्लेट और घर में इस्तेमाल की जाने वाले वाले छोटे बर्तन चिपके हुए हैं। वीडियो मिलने के बाद प्रशासन की ओर से डॉक्टर्स की एक टीम बुधवार को यहां जांच के लिए पहुंची भी। जांच के बाद डॉक्टरों ने कहा कि यह रिसर्च का विषय है और अभी इस पर कोई भी बयान देना जल्दबाजी होगा। फिलहाल हम इसकी रिपोर्ट महाराष्ट्र सरकार को भेजेंगे और उनके निर्देश के मुताबिक काम किया जायेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper