कोरोना से जंग जीतने वाला अपनों से तंग

शिवपुरी: मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में एक युवक कोरोना जैसी महामारी से जीतने में तो कामयाब रहा लेकिन अपने आस-पड़ोस के लोगों के तानों से परेशान है। वह कहीं और चला जाना चाहता है। युवक ने अपना मकान बेचने के लिए बैनर तक टांग दिया है। शिवपुरी जिले के कोरोना संक्रमण के पहले मरीज राजीव (परिवर्तित नाम) अपने मनोबल के दम पर कोरोना संक्रमण से जंग जीत गया, पर अपने पड़ोसियों और नजदीकियों के दुर्व्यवहार और बुरे बर्ताव के चलते उसका मनोबल टूट चुका है।

युवक अपना घर बेचकर परिवार के साथ कहीं और जाकर बसना चाह रहा है। उसने अपने घर पर बोर्ड भी लगा दिया है कि ‘यह मकान बिकाऊ है।’ राजीव का कहना है कि वह कोरोना वायरस से सिर्फ अपने मनोबल के कारण स्वस्थ हुआ और उसका मनोबल जिला प्रशासन, चिकित्सक, नर्स और मीडिया के लोग फोन पर बातचीत कर बढ़ाते रहे, लेकिन जब से वह स्वस्थ्य होकर शिव कालोनी स्थित अपने घर में आया है, तब से उनके पड़ोसी और नजदीकी उनके साथ दुर्व्यवहार व बुरा बर्ताव कर रहे हैं, जिससे वह आहत है।

वहीं राजीव के पिता का कहना है कि पड़ोसी उनके घर पर न सब्जी वाली और न ही दूध वाले को आने दे रहे हैं। रात में कुछ लोग उनके घर का दरवाजा पीट-पीटकर गाली-गलौज कर उन्हें घर खाली कर यहां से चले जाने के लिए मजबूर कर रहे हैं। लोग सामाजिक दूरी के बजाय स्वस्थ हो चुके इंसान से भावनात्मक दूरी बनाने लगे हैं, जो संक्रमण से ज्यादा घातक साबित होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper