क्या आपकी शादी में आ रही रुकावट का कारण है घर का बेड

नई दिल्ली: अक्सर लोगों के साथ ऐसा देखा सुना गया है कि उन्हें किसी नई जगह पर जाकर रात में बेचैनी, नींद न आना जैसी कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं कुछ ऐसी भी जगह होती है, जहां इंसान को घर से अपने घर से भी ज्यादा आराम मिलता है। लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि ऐसा क्यों होता है और उसके पीछे का क्या कारण। अगर नहीं तो आज हम आपको बताते हैं इसके पीछे का असली कारण।

दरअसल, ये सब वास्तु के प्रभाव के कारण होता है। यही नहीं, वास्‍तुशास्‍त्र के अनुसार आपके सोने का तरीका और बिस्तर का प्रभाव भी आपकी जिंदगी पर पड़ता है। ये आपके वैवाहिक‌ जीवन और विवाह होने में बाधा भी बन सकता है। इसके अलावा आपके करियर और आर्थिक‌ स्थिति पर भी असर डालता है। वास्तुशास्‍त्र के अनुसार लड़के और लड़कियों की सोने की दिशा अलग-अलग होती है। लड़कियों के लिए उत्तर-पश्चिम दिशा शुभ होती है तो लड़कों को पूर्व और पूर्वोत्तर दिशा में सोना चाहिए। बेड लगाते समय यह भी ध्यान रखें कि बेड किसी भी दीवार से सटा हुआ नहीं हो।

बेड की साफ-सफाई जितनी जरूरी है उतनी ही जरूरी है बेड के नीचे की सफाई। इसलिए अगर बेड के नीचे सामान रखने की आदत है तो इसे बदल दीजिए। बेड के नीचे रखे हुए सामानों से नकारात्मक उर्जा का संचार होता है जो विवाह में बाधक होता है। अगर बॉक्स वाले पलंग पर सोते हैं तो निश्चित ही बॉक्स में काफी सामान रखते होंगे। इससे भी नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

इस नकरात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए पलंग के चारों पायों के नीचे तांबे का एक स्प्रिंग और एक बाउल में नमक भर कर रखें। बेड पर हमेशा बाईं ओर सोएं। इस तरफ सोने वाले लोगों का मूड अधिक अच्छा रहता है, उनके अंदर सकारात्मक सोच रहती है और वह अधिक एक्टिव रहते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper