क्या गृह मंत्री अमित शाह ने लिखा UP के सीएम योगी को पत्र, बताया चुनाव में जीत का मूल मंत्र? फर्जी है लेटर

सूचना क्रांति के इस दौर में सोशल मीडिया लोगों के लिए जितना मददगार हुआ है, उससे चुनौतियां भी उतनी ही पैदा हुई हैं. तकनीक के इस युग में कब कौन सी बात कितनी दूर तक चली जाए, कह पाना मुश्किल है. अफवाहों और फेक सूचनाओं की इस बाढ़ में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के नाम से भी एक पत्र वायरल हो रहा है. सोशल मीडिया में वायरल हो रहा इस लेटर के बारे में दावा ये किया जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को यह पत्र लिखा है.

सरकारी सूचना एजेंसी पीआईबी यानी प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो ने वायरल हो रहे इस लेटर को फर्जी बताया है. पीआईबी की ओर से बताया गया है कि केंद्रीय गृह मंत्री ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को ऐसा कोई पत्र नहीं लिखा है. पीआईबी की फैक्ट चेक टीम ने कहा है कि सोशल मीडिया में वायरल हो रहा यह लेटर फेक है.

क्या लिखा है वायरल लेटर में?

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे इस लेटर में दावा किया जा रहा है कि केंद्रीय गृह मंत्री ने यूपी के सीएम को कोरोना की दूसरी लहर में बिगड़ी स्थिति को संभालने को उठाए गए कदमों की प्रशंसा की है. दावे के मुताबिक, अमित शाह ने​ लिखा है, ‘कोविड की दूसरी लहर को संभालने के लिए बधाई. अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में थोड़ा एफर्ट्स लगाने की जरूरत है. जुलाई मध्य तक 18 से अधिक उम्र के लोगों के वैक्सिनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस में थोड़े और प्रयास करने होंगे.’

‘मुझे पूरा भरोसा है कि इस प्रक्रिया को समय से पूरा करने में आप कामयाब होंगे. यह वैक्सीन रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस वर्ष 2022 में उत्तर प्रदेश में होनेवाले चुनाव में जीत की कुंजी साबित होगी. आपके और आपकी टीम के साथ मेरी शुभकामनाएं हैं.’

क्या है इस वायरल लेटर की सच्चाई?

सरकारी सूचना एजेंसी पीआईबी की एक फैक्ट चेक इकाई है, जो सरकार, मंत्रालय और विभागों से जुड़ी अफवाहों या फर्जी सूचनाओं/खबरों की पड़ताल की उसका सच्चाई बताती है. सूचनाएं गलत होने पर PIBFactCheck की टीम उनका खंडन करती है. सोशल मीडिया में वायरल लेटर के बारे में पीआईबी फैक्ट चेक टीम ने कहा है कि यह फेक है. पीआईबी ने ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी है.

अपने ट्वीट में पीआईबी ने लिखा है, ‘सोशल मीडिया में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के नाम से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखा गया एक लेटर वायरल हो रहा है. यह लेटर फर्जी है. यूपी के सीएम को अमित शाह ने इस तरह का कोई पत्र नहीं लिखा है.’ पीआईबी की ओर से दी गई जानकारी के बाद स्पष्ट हो गया है कि यह लेटर पूरी तरह से फर्जी है और सोशल मीडिया में कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा सर्कुलेट किया जा रहा है.

TV9 भारतवर्ष से साभार

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper