क्या वाराणसी से पीएम मोदी को चुनौती देंगे शत्रुघ्न सिन्हा!

दिल्ली ब्यूरो: शॉटगन के नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा करते तो हैं बीजेपी की राजनीति लेकिन पिछले चार साल से पीएम मोदी और उनकी नीतियां उनके निशाने पर है। वे खूब बोलते हैं,उलाहना देते हैं लेकिन बीजेपी के प्रति भाव भी रखते हैं। बीजेपी उनकी पहली प्राथमिकता रही है। लेकिन जैसे ही पार्टी की बागडोर मोदी और शाह के हाथ गयी ,शत्रुघ्न सिन्हा बागी हो गए। पिछले साल भर से देश में घूम रहे हैं और देश के मिजाज को पढ़ रहे हैं। वे सबके है और तमाम राजनीतिक पार्टियां उनके साथ खड़ी दिखती है। वे लालू के भी ख़ास हैं तो नीतीश के भी पाने हैं। वे ममता के साथ भी खड़े हैं तो केजरीवाल के सार्थ ही वाम दलों के साथ भी। वे कांग्रेस और सोनिया के प्रति भी मोह रखते हैं तो सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ भी खड़े होते हैं। अखिलेश के साथ गुरूवार की उनकी मुलाक़ात कई राजनीतिक सवालों को खड़ा कर दिया।

शत्रुघ सिन्हा अचानक लखनऊ में सपा दफ्तर पहुंचे और अखिलेश के साथ बैठकी की। राजनीति तेज हो गयी ,कई सवाल खड़े हो गए। खबर बहार आयी कि शत्रु वाराणसी से सपा की टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं। पीएम मोदी को चुनौती देंगे। ना तो शत्रु ने और नाही सपा ने अभी इस पर कोई बाते कही है लेकिन लखनऊ की फिजा में आग लग गयी है। लोग यह भी कह रहे हैं कि अगर ऐसा हुआ तो क्या होगा ? सपा के वोट बैंक के साथ ही शत्रु का जलवा एक साथ चला तो क्या होगा ? लेकिन अभी यह सब चर्चा का ही विषय है। देखना होगा कि आगे क्या होता है।

लोकसभा चुनाव में भाजपा को धूल चटाएगा महागठबंधन

पिछले दिनों ऐसी खबरें आ रही थी कि बीजेपी किसी असहज स्थिति से बचने के लिए आगामी चुनाव में शत्रुघ्न सिन्हा का टिकट काट सकती है। चर्चा है कि भाजपा अपने बडबोले सांसद बिहारी बाबू अर्थात शत्रुघ्न सिन्हा के जगह नमिता भट्टाचार्य को यहां से अपना उम्मीदवार बना सकती है। वैसे, इस चर्चा पर अभी कोई खुलकर बोलने को तैयार नही है, लेकिन कहा जा रहा है कि अभी यह चर्चा प्रारंभिक स्तर पार्टी के भीतर हुई है।

बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा अपनी ही पार्टी की सरकार की आलोचना करते रहते हैं। हाल ही में केंद्र की नरेंद मोदी सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि वे भले ही भाजपा में हैं लेकिन पहले भारतीय जनता के हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अफसोस है उनकी पार्टी ‘वन मैन शो, टू मेन आर्मी बनकर रह गयी है।’इस वर्ष की शुरुआत में भाजपा से अपने को अलग करने की घोषणा करने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा कि आजकल सच बोलने वाले किसी भी व्यक्ति को “देशद्रोही” कहा जाता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper