क्या वास्तव मे जीरो वॉट के बल्ब मे बिजली की खपत जीरो होती है जानें

कुछ ज्योतिषियों के अनुसार हरे नाईट लैम्प्स का उपयोग करने से बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र में अच्छी सफलता मिलती हैं इन बल्बों को दी गयी परिभाषा के अनुसार, लोगों को ऐसा लगता होगा यह बल्ब बिजली की ना के बराबर खपत करते हैं और इसलिए उनको हर समय उपयोग करने में किसी को कोई आपत्ति नहीं होती है| लेकिन, क्या यह बल्ब वास्तव में शून्य वाट बिजली की खपत करते हैं जी हां हम आपको बता दे कि जीरो वाट बल्ब, बिजली की 12-15 वाट खपत करते हैं

हालांकि, पुराने दिनों में, जब सभी उपकरणों को बंद कर दिया जाता था, तब सिर्फ जीरो वाट बल्ब को ही ओन रहने दिया जाता था, तब के विद्युत मीटर इतनी गुणवत्ता वाले नहीं होते थे की वह इतने कम परिमाण की शक्ति को माप सके| तबके विद्युत मीटर, इनके उपभोग को ‘शून्य’ बिजली खपत दिखाते थे और तबसे इनका नाम ‘जीरो वाट बल्ब’ पड़ गया था|

इन बल्बो का नाम जीरो वाट बल्ब इसलिए नहीं पड़ा क्योंकि यह शून्य बिजली की खपत करते हैं, बल्कि पुराने मीटर की अक्षमता के कारण पड़ा जो की सही ढंग से उनके बिजली की कुल खपत को मापने में सक्षम नहीं होते थे| इस गलत धारणा के कारण ही इन बल्बों के अनियंत्रित उपयोग करने की परंपरा का जन्म हुआ|

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper