खाकी का एक यह भी रूप: कोरोना से बचाव के लिए महिला पुलिसकर्मी तैयार कर रही हैं मास्क

अलीगढ़: कोरोना महामारी से बचाव के लिए मास्क आवश्यक माना जा रहा है। वहीं कोराना वायरस को लेकर अलीगढ़ पुलिस बेहद गंभीर हैं। उन्होंने पुलिस लाइंस में दो दर्जन से अधिक महिला पुलिसकर्मियों को सिर्फ मास्क बनाने के काम में ही लगाया गया है। उन्होंने इसके लिए बड़ी संख्या में सिलाई मशीन भी महिला पुलिस कर्मियों को उपलब्ध कराई गई हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मियों को सबसे पहले इस मास्क की आपूर्ति की जाएगी,,जनपद के सभी थानों,,चौकियों व कार्यालयों में मास्क की उपलब्ध कराया जाएगा।

बता दें कि अलीगढ़ रिज़र्व पुलिस लाइन्स के रिज़र्व इंस्पेक्टर ने बताया कि डीआईजी व एसएसपी के आदेश मिलने के बाद मास्क बनाया जा रहा है। क्योंकि बाज़ार में मास्क या तो बहुत महंगा मिलता है, लेकिन इस समय बजार में भी मास्क मिल नहीं रहा है। इसलिए ये आदेश हमें मिला है कि अपने ही कपड़े से अपने ही कर्मचारियों के द्वारा इस मास्क को तैयार किया जाए। उन्होंने कहा कि 30 महिला कांस्टेबल को 2 अलग अलग शिफ़्ट में महिलाओं को लगाकर कार्य किया जा रहा है। 600 से 700 मास्क एक दिन में तैयार किए जा रहे हैं।

इन मास्क का पुलिसकर्मियों को व उनके परिवार को इसके साथ ही आम जनता को भी इसका वितरण किया जाएगा। बाजार में मिलने वाला मास्क की लागत 12 रुपये के कऱीब आ रही है। मगर हमारे यहां इसकी लागत सिफऱ् 4 से 5 रुपये आ रही है। उन्होंने कहा कि बाजार से सस्ता भी यह मासक पड़ रहा है। आसानी से कर्मचारियों को यह मास्क तैयार कर के दिया जाएग।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper