खाकी हुई शर्मसार, आइसक्रीम नहीं खिलाई तो पूरा ठेला लेकर ही चल पड़ा पुलिसकर्मी

कानपुर. उत्‍तर प्रदेश की कानपुर पुलिस अपने कारनामों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहती है. मंगलवार को सोशल मीडिया पर पुलिस का एक वीडियो वायरल हुआ. जिसमें एक हेड कांस्टेबल आइसक्रीम का ठेला चला रहा है और उसके पीछे आइसक्रीम बेचने वाला शख्स भाग रहा है. सोशल मीडिया पर जिसने भी यह वीडियो देखा वो अपने गुस्से को रोक नहीं पाया. हालांकि यह बात दीगर है कि वीडियो देखने के बावजूद कानपुर पुलिस के आलाअधिकारी पुलिस कर्मियों की शर्मशार करने वाली इस हरकत को अभी भी सही बताने की कोशिश कर रहे हैं.

दरअसल, यह पूरा मामला कानपुर के बर्रा थानाक्षेत्र का है. आरोप है कि जेब्रा 78 में सवार हेड कांस्टेबल अखिलेश पांडेय और सिपाही शिवम चाहर बीती सोमवार रात गश्त कर रहे थे. बर्रा 6 में एक आइसक्रीम बेचने वाला आइसक्रीम का ठेला खड़ा कर रहा था. इसी दौरान, जेब्रा से सिपाही आइसक्रीम वाले के पास पहुंचे और वर्दी का रौब गांठने लगे. सिपाही पूछने लगे कि इतनी रात में कहां से आकर ठेला खड़ा कर रहे हो. सिपाही आइसक्रीम वाले को डरा धमका कर गाली गलौच करने लगे. इसी बीच, हेड कांस्टेबल अखिलेश पांडये आइसक्रीम वाले का ठेला लेकर दौड़ाने लगा. आइसक्रीम वाला ठेले के पीछे दौड़ लगाता रहा. इसी दौरान किसी ने यह वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया.

मन भरने तक आइसक्रीम वाले को दौड़ाते रहे पुलिसकर्मी
आइसक्रीम वाले का आरोप है कि वह आइसक्रीम बेचने के बाद अपना ठेला खड़ा कर रहा था. ये दो सिपाही उसे नशे की हातल में लग रहे थे. उसने बताया कि वो आए और मुझसे पूछने लगे कि इतनी रात में कहां से आ रहे हो. कुछ माल बचा है या नहीं. मैंने कहा कि साहब कुछ नहीं बचा है. इसके साथ मेरे साथ अभ्रदता करने लगे और ठेला चौकी लेकर चलने के लिए कहने लगे. इसी बीच एक सिपाही खुद आइसक्रीम का ठेला चलाने लगा. मैं ठेले के पीछे भागता रहा और कहता रहा कि साहब ठेला देदो, नहीं तो मालिक को क्या जवाब दूंगा. काफी देर तक इस आइसक्रीम वाले को दौड़ाने के बाद जब पुलिसवालों का मन भर गया, तो वे उसे छोड़कर मौके से चले गए.

news18 से साभार

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper