खाने में निकली ‘इल्ली’, गुस्साए छात्रों ने आधी रात को अंबेडकर चौक पर दिया धरना

बैतूल. मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में पोस्ट मैट्रिक छात्रावास के भोजन में इल्लियां (Caterpillars) पाए जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है. शिकायत के बाद मामले में अब तक छात्रावास अधीक्षक पर कोई कार्रवाई नहीं होने से गुस्साए छात्रों ने आधी रात को शहर के अंबेडकर चौक पर धरना दिया. इस दौरान मौके पर पहुंचे अधिकारियों से छात्रों की तीखी नोकझोंक भी हुई, जिसके बाद पुलिस बल भी मौके पर पहुंच गया. काफी देर तक चले इस हंगामे के बाद प्रशासन ने छात्रों को 12 घंटों के अंदर कार्रवाई का आश्वासन दिया, जिसके बाद छात्र धरने से उठे.

पूरा मामला

सोमवार दोपहर बैतूल के पोस्ट मैट्रिक बालक छात्रावास में भोजन से इल्लियां निकलने पर छात्रों ने जमकर हंगामा किया. इस बीच बच्चों ने कलेक्टर को ज्ञापन देकर जल्द से जल्द होस्टल अधीक्षक के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की, पर जब शाम तक कोई कार्रवाई नहीं हुई तो गुस्साए छात्र आधी रात को अंबेडकर चौक पर धरना देने बैठ गए.

छात्रों ने दी ये चेतावनी

इस दौरान छात्रों को समझाने के लिए मौके पर पहुंचे एसडीएम, आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारियों और पुलिस से छात्रों की जमकर बहस हुई. छात्रों का कहना है कि इल्लियां खिलाने वाले छात्रावास अधीक्षक को हटाने की बजाए प्रशासन जांच की प्रक्रिया का हवाला दे रहा है, जो उन्हें मंजूर नहीं है. छात्रों का कहना है कि वो छात्रावास का भोजन तब तक नहीं खाएंगे जब तक दोषी अधीक्षक को होस्टल से हटा नहीं दिया जाता.

12 घंटे के अंदर कार्रवाई का आश्वासन

बहरहाल, छात्रों के इस विरोध ने प्रशासन की नींद उड़ा दी है. अब वे मामले में तत्काल कार्रवाई करने की बात कह रहे हैं. प्रशासन ने इस मामले में अगले 12 घंटे के अंदर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है. वहीं कार्रवाई नहीं होने पर छात्रों ने आंदोलन आगे जारी रखने की चेतावनी दी है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper