खेत में खून से लथपथ मिला किशोरी का शव, परिजनों ने दुष्कर्म के बाद हत्या का लगाया आरोप

लखनऊः प्रदेश की राजधानी लखनऊ के दुबग्गा थाना क्षेत्र अन्तर्गत एक किशोरी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। किशोरी का शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी है। वहीं परिवारीजनों ने दुष्कर्म के बाद बेटी की हत्या का आरोप लगाया है। मिली जानकारी के अनुसार दुबग्गा थानाक्षेत्र के मौराखेड़ा में रहने वाली किशोरी रोजाना की तरह नित्यक्रिया के लिए शुक्रवार को खेत गई और वापस नहीं लौटी।

बेटी के काफी देर तक घर न लौटने पर परिवार के लोग उसकी खोजबीन करने लगे। काफी खोजबीन के बाद खेत में ही बेटी की खून से लथपथ हालत में शव मिला। शव के पास ही एक चाकू भी बरामद हुआ है, जिसमें खून के निशान लगे हुए हैं। गांव की बेटी की हत्या की खबर मिलते ही भारी संख्या में लोग एकत्र हो गए। घटना से लोगों में पुलिस के प्रति काफी नाराजगी दिख रही है। मामले को गंभीरता से लेते हुए एसीपी, थाना प्रभारी, सर्किल थाना की फोर्स के अलावा फोरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंचकर घटनास्थल की जांच की। शव की दशा को देखकर स्थानीय लोग दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका व्यक्त कर रहे हैं।

एसीपी ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली कि एक 17 साल की किशोरी का शव खेत में पड़ा है। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने मौका मुआयाना किया है। प्रथमदृष्टया जांच में यह बात सामने आ रही है कि युवती की हत्या के पीछे प्रेम प्रसंग के चलते हुई है। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और जल्द ही हत्यारों गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया जाएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper