गर्मियों में क्‍यों ज्‍यादा होती है यूरिन इंफेक्‍शन की समस्‍या, कोल्‍डड्रिंक्‍स भी है एक कारण

लखनऊ: महिलाएं घर और ऑफिस के कामकाज और लापरवाही के चक्कर में अपनी हेल्थ को कई बार नजरअंदाज कर देती हैं, जो आगे चलकर उनके लिए परेशानी का सबब बनता है। किसी भी प्रॉब्लम की शुरुआत में जांच कर उसका इलाज करके खत्म कर देना बेहतर होता है, न कि उसे इग्नोर कर और बढ़ाना।

गर्मियों में अक्‍सर महिलाएं को यूटीआई(यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन) की शिकायत दूसरे मौसम की तुलना में अधिक होती है। जिसके कई कारण हो सकते हैं। पुरुषों की तुलना में महिलाओं में खासतौर से इस इन्फेक्शन को देखा गया है। जरा सी अनदेखी करने से ये इन्फेक्शन ब्लैडर और किडनी तक को नुकसान पहुंचा सकता है। इस बीमारी के कोई भी लक्षण दिखाई देने पर तत्काल जांच और इलाज कराना चाहिए। गर्मियों में खासतौर पर हेल्थ को लेकर सजग रहना चाह‍िए, क्‍योंकि इस मौसम में सबसे ज्‍यादा बीमार होने का रहता है खतरा।

यूटीआई है क्या
महिलाओं में उम्र बढ़ने के साथ इस प्रॉब्लम को ज्यादा देखा गया है, इस संक्रमण वजाइना के आसपास के किसी भी हिस्से को प्रभावित कर सकती है। ज्यादातर ई-कोली बैक्टीरिया के कारण ये समस्या होती है। महिलाओं में यूटीआई का कारण, बैक्टीरिया का यूरिनरी ब्लैडर में प्रवेश कर जाना है, जिससे पेशाब करते समय वजाइना में बहुत ज्यादा जलन होती है। गर्मियों में महिलाओं को यूटीआई की दिक्‍कत ज्‍यादा होती है, इसका कारण होता है कम पानी पीने से डिहाइड्रेशन की समस्‍या बढ़ जाती है जिसकी वजह से ब्‍लैडर में इंफेक्‍शन होता है जिसकी वजह से पेशाब करते वक्‍त जलन और दुर्गंध होने लगती है। इसके अलावा और भी वजह है जिनसे यूटीआई होता है आइए जानते हैं।

कैफीन के इस्‍तेमाल से भी
अत्‍यधिक मात्रा में कैफीन का सेवन करने से भी यूटीआई होने का खतरा बना रहता है। चाय और कॉफी में मौजूद कैफीन शरीर में प्रवेश करने के बाद प्यास को खत्म करते हैं और इस वजह से हम पानी का पर्याप्‍त सेवन नहीं कर पाते हैं। जिससे डिहाइड्रेशन होता है और आप आसानी से यूटीआई के चपेट में आ सकते हैं।

कोल्‍ड ड्रिंक्‍स का सेवन
गर्मियों में कई लोग प्‍यास बुझाने के ल‍िए कोल्‍ड ड्रिंक्‍स का सेवन करते हैं लेकिन इसे पीने से पहले एक बात ध्‍यान में रखें कि कोल्‍डड्रिंक्‍स में कार्बोनेटेड पाया जाता है इसे पीने से मूत्र क्षारीय बनता हैं और जलन को कम होती है, लेकिन ये डिहाइड्रेशन की समस्‍या कम नहीं करता है।, इसका ज्‍यादा सेवन हानिकारक (पानी के सेवन के बिना) हो सकता है। परिणामस्‍वरुप यूटीआई होने का खतरा रहता है।

स्वच्छ शौचालय का करें इस्‍तेमाल
गर्मियों में बैक्‍टीरिया तेजी से फैलते है, इसल‍िए ये गंदी और अस्‍वच्‍छ जगह पर इनका जमावड़ा मिलेगा। इसल‍िए हमेशा स्वच्छ शौचालय का प्रयोग करें। स्वच्छता किसी भी रोग से बचने का सबसे बड़ा उपाय है। घर के बाथरुम को साफ रखें अगर सार्वजान‍िक टॉयलेट को यूज करने की नौबत आ जाएं तो कुछ उसे फ्लश करने के बाद ही यूज में लें।

इन बात का रखें ध्‍यान

– यूटीआई से बचने का सीधा सा उपाय है ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए।

– गर्मियों में खासतौर पर चुस्त कपड़े नहीं पहनने चाहिए।

कम पानी पीने से न केवल डिहाइड्रेशन होता है बल्कि आप – यूटीआई से भी पीड़ित हो सकते हैं।

– सार्वजनिक शौचालयों का उपयोग न करना ही बेहतर है।

– महिलाओं को शौचालय उपयोग करने से पहले और बाद में शौचालय को फ्लश और शौचालय की सीट पर पानी डालकर सूखा नैपकिन से साफ कर लेना चाहिए।

– अगर आपके पार्टनर को यूटीआई हो गया है तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए क्योंकि समय रहते इलाज न होने पर यह गंभीर रोगों को दावत दे सकता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper