गाजीपुर रेप केस: पीड़ित के परिजनों से मिले भाजपा सांसद, कहा- मौलवी को मिले कड़ी सजा

नई दिल्ली। दिल्ली के गाजीपुर इलाके में 11 साल की नाबालिग लड़की से दुष्कर्म का मामला जोर पकड़ता जा रहा है। इस मामले को लेकर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष एवं सांसद मनोज तिवारी और इलाके के स्थानीय सांसद महेश गिरी ने पीड़िता के परिजनों से उसके घर जाकर मुलाकात की। भाजपा के दोनों सांसद पीड़िता के घर पर करीब आधे घंटे तक रहे है। वहीं, दिल्ली में कथित तौर पर मदरसे के अंदर हुई रेप की इस घटना के विरोध में इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला गया है। भले ही किसी भी पार्टी से आयोजित होना न बताया जा रहा हो, लेकिन इस प्रदर्शन में भाजपा नेताओं की अच्छी खासी संख्या मौजूद रही।

पीड़िता के परिवार से मुलाकात के बाद दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि मामले के दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए, ताकि इस तरह की हैवानियत करने की कोई हिमाकत न करे। मामले में शामिल मौलवी पर भी कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। इसके अलावा इलाके के स्थानीय बीजेपी सांसद महेश गिरी ने कहा कि इस पूरे मामले में मदरसे का मौलवी शामिल है और उसे कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए। महेश गिरी ने कहा कि मदरसे का मौलवी इससे पहले भी कुछ मामलों में संदिग्ध बताया जाता रहा है। इस मसले पर बीजेपी सांसदों ने कहा कि वो जल्द ही गृह मंत्रालय को इस बाबत पत्र लिखेंगे और इस पूरे मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग करेंगे।

मनोज तिवारी ने इस घटना में सीधे तौर पर मदरसे के मौलवी को जिम्मेदार ठहराते हुए सख्त कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि वो परिवार के लोगों से मिलकर आए हैं और उन लोगों ने बताया है कि ये लोग पेशेवर अपराधी हैं। पोक्सो एक्ट के अगले दिन ही इस तरह का दुस्साहस दिखाकर घटना को अंजाम दिया गया। मामले को धर्म से जोड़कर देखे जाने के सवाल पर मनोज तिवारी ने कहा कि वो इस घटना को धर्म से जोड़कर नहीं देख रहे हैं, लेकिन आरोपी को फांसी होनी चाहिए।

– बंद हो मदरसा, मौलवी हो गिरफ्तार

पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद महेश गिरी इस घटना पर बेहद आक्रोश में दिखे। उन्होंने कहा कि यह घटना मदरसे के अंदर हुई है। ऐसे में मदरसे को फौरन बंद कर देना चाहिए। सांसद ने कहा कि कुछ आरोपी अभी बचे हुए हैं। उनकी गिरफ्तारी जल्द से जल्द होनी चाहिए। उम्मीद है कि पोक्सो एक्ट आने के बाद अब इनको फांसी मिल जाएगी। मामले को धर्म से जोड़कर देखने के सवाल पर महेश गिरी ने कहा कि वो लोग अब नजर नहीं आ रहे, जो कठुआ गैंगरेप पर कैंडल मार्च निकाल रहे थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper